About Me

header ads

15 साल के गेंदबाज का कहर, अकेले चटकाए पारी के सभी 10 विकेट


भारत के अंडर-16 क्रिकेट टूर्नामेंट विजय मर्चेंट ट्रॉफी में मेघालय के गेंदबाज निर्देश बैसोया ने बुधवार को एक पारी में पूरे 10 विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है. निर्देश ने असम वैली स्कूल ग्राउंड में नगालैंड के खिलाफ खेले गए मैच में यह उपलब्धि हासिल की. मैच के पहले दिन पहली पारी खेलने उतरी नगालैंड टीम के बल्लेबाज निर्देश के सामने टिक नहीं सके और लगातार विकेट खोते गए. मेरठ से ताल्लुक रखने वाले 15 साल के निर्देश मेघालय के लिए एक गेस्ट बॉलर के रूप खेलते हैं. उन्होंने 21 ओवरों में 51 रन देकर सभी 10 विकेट झटके. इसमें उन्होंने 10 मेडन ओवर भी डाले.

ऑफ स्पिनर निर्देश ने विकेट लेने की शुरुआत पारी के 10वें ओवर की तीसरी गेंद से की. इस ओवर में उन्होंने सावलिन कुमार मलिक को आउट किया. मलिक 29 गेंद खेलने के बाद भी खाता नहीं खोल पाए. यहां से जो विकेटों का सिलसिला शुरू हुआ वो 42वें ओवर की आखिरी गेंद पर रुका. निर्देश ने हुटो तोशिहो अचहुमी को आउट कर अपने 10 विकेट पूरे किए और नगालैंड को 113 रनों पर ढेर कर दिया.

नगालैंड की तरफ से श्रवण नागा रवि ने 112 गेंदों का सामना कर सबसे ज्यादा 55 रन बनाए. केदुवहेटु के खरेइबू ने 20, रोहन यशपाल पारचंदा ने 16 और सुजाल शंकर प्रसाद ने 14 रनों का योगदान दिया. गेंद के बाद निर्देश ने बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन किया और 100 गेंदों पर 68 रन बनाए. उनके इस योगदान के दम पर मेघालय ने दिन का अंत चार विकेट के नुकसान पर 109 रनों के साथ किया.

आईएएनएस से बात करते हुए निर्देश बेहद खुश नजर आए. उन्होंने कहा, 'मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है. मैं पैदा भी नहीं हुआ था, जब अनिल कुंबले ने 10 विकेट चटकाए थे, लेकिन मैंने उस बारे में बहुत सुना है. मैं हमेशा वैसा कुछ करना चाहता था, लेकिन कभी यह नहीं सोचा था कि यह मेरी जिंदगी में इतनी जल्दी हो जाएगा. मैंने अभी अपने परिवार से बात की और वे भी भावुक हो उठे.'

अंडर-16 विजय मर्चेंट ट्रॉफी में निर्देश का यह दूसरा सीजन है और अब तक वह चार मैचों में 27 विकेट ले चुके हैं. पिछले सीजन में उन्होंने छह मैचों में 33 विकेट चटकाए थे. निर्देश तीन बहनों और दो भाइयों में सबसे छोटे हैं. वह घर लौटकर सभी के साथ अपने अनुभव को साझा करना चाहते हैं, खासकर 10 विकेट लेने वाले स्पेल के अनुभव को.

मणिपुर के तेज गेंदबाज रेक्स सिंह पिछले साल एक पारी में 10 विकेट लेने वाले सबसे युवा गेंदबाज बने थे. उन्होंने कूच बिहार ट्रॉफी में यह उपलब्धि हासिल की थी. उनसे पहले पुडुचेरी के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज सिदक सिंह ने सीके नायडू ट्रॉफी में पिछले सीजन ही 10 विकेट चटकाए थे.