About Me

header ads

अमेरिका ने फिर दिया अनुच्छेद 370 पर बयान, कहा- भारत के फैसले का समर्थन, लेकिन...


जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए हुए दो महीने से अधिक हो गया है. पाकिस्तान के द्वारा इस मसले को लगातार दुनिया के कई मंचों पर उठाया गया है, लेकिन वह इस मसले को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने में नाकाम रहा है. अब अमेरिका ने एक बार फिर अनुच्छेद 370 पर भारत का समर्थन किया है, ट्रंप प्रशासन की ओर से कहा गया है कि भारत के द्वारा जम्मू-कश्मीर पर जो फैसला किया गया है, वह उसका समर्थन करते हैं. हालांकि, अमेरिका की ओर से जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों पर चिंता जताई गई है.

अमेरिका के विदेश मंत्रालय के दक्षिण एशिया डिपार्टमेंट की असिस्टेंट सेक्रेटरी एलिस वेल्स की ओर से कहा गया है कि भारत ने इसके पीछे तर्क दिया है कि इससे जम्मू-कश्मीर में विकास की रफ्तार बढ़ेगी, साथ ही कई कानूनों को लागू किया जा सकेगा.

एलिस वेल्स ने कहा, ‘हम भारत के तर्कों का सम्मान करते हैं और फैसले का समर्थन करते हैं. अमेरिका इन हालातों पर नज़र बनाए हुए है, हालांकि हमारी ये भी उम्मीद है कि अभी जो पाबंदियां लगी हुई हैं वह जल्द ही खत्म होंगी’. उन्होंने कहा कि भारत को सभी फैसले मानवाधिकार के आधार पर लेने चाहिए, जल्द ही इंटरनेट और फोन सुविधा को जल्द शुरू करना चाहिए.

आपको बता दें कि 5 अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को पंगु करने का काम किया था, साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया था. इसी के बाद से ही इस विषय की दुनियाभर में चर्चा है.

मोदी सरकार की ओर से जबसे ये फैसला लिया गया है, तो पाकिस्तान को काफी दिक्कत हुई है. पाकिस्तान लगातार इस मसले को दुनिया के सामने उठा रहा है, लेकिन अधिकतर देशों ने इस मसले पर भारत के फैसले का समर्थन किया है और इसे भारत का आंतरिक मामला बताया है. पाकिस्तान की ओर से कश्मीर के मसले पर अपने देश में कई तरह के प्रदर्शन भी किए गए थे.