मंदिर के प्रांगण में सोए एक व्यक्ति की रहस्यमय तरीके से मौत


मंदिर के प्रांगण में एक व्यक्ति की रहस्यमय तरीके से मौत हो गई. सुबह यह घटना शहर के भक्ति नगर थाना अंतर्गत प्रकाश नगर इलाके में हुई है. पुलिस ने मृतक की पहचान नरेश पासवान (35) के रुप में की है. पोस्टमार्टम के लिए शव को उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक मूल रुप से पड़ोसी राज्य बिहार के मुजफ्फरपुर का निवासी था. करीब 15 वर्ष पहले प्रकाश नगर निवासी काजल के साथ उसने प्रेम विवाह किया था। दोनों के तीन बच्चे भी हैं. शादी के बाद से दोनों किराये के मकान में रहने लगे. शराब की लत दाम्पत्य जीवन पर हावी हो गया. करीब एक वर्ष से दोनों अलग-अलग रह रहे थे. तीनों बच्चों के साथ काजल अपने मायके में रहने लगी. लोगों के घरों में परिचारिका का काम कर वह अपना व अपने बच्चों का भरण-पोषण कर रही है. वहीं अलग होने के बाद से नरेश का कोई स्थाई ठिकाना नहीं रहा.

जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले नरेश सड़क दुर्घटना का शिकार हुआ था. घटना स्थल पर मौजूद लोगों ने उसे इलाज के लिए उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया था. बुधवार की शाम वह स्वत: प्रकाश नगर स्थित काली मंदिर पहुंचा. रात में वह मंदिर के पुजारी के बगल में ही जमीन पर सोया हुआ था. गुरूवार की सुबह वह उठा ही नहीं। इसके बाद लोगों ने भक्ति नगर थाना पुलिस को जानकारी दी.

पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिवार के लोगों ने बताया कि उसकी शराब की लत हद पार गई थी. शराब की वजह से ही पत्नी बच्चों समेत अलग रहने लगी. परिवार ने हत्या की आशंका नहीं जताई है. घायल अवस्था में शराब की वजह से मौत होने की संभावना जताई गई है.