About Me

header ads

भारत ने जूनियर ट्रैक साइक्लिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण जीत रचा इतिहास


जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में जारी जूनियर ट्रैक साइक्लिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों ने कमाल कर दिया है. दरअसल इसो एलबेन, रोनाल्डो सिंह और रोजीत सिंह की भारतीय पुरुष टीम ने फ्रैंकफर्ट में आयोजित जूनियर ट्रैक साइक्लिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप के टीम स्प्रिंट स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है. आपको बता दें कि विश्वस्तर पर साइक्लिंग में भारत का यह अब तक का पहला स्वर्ण पदक है.

ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, विश्व रैंकिंग में दूसरे नंबर पर काबिज भारतीय जूनियर टीम ने फाइनल लैप में आस्ट्रेलिया को 0.056 सेकेंड के अंतर से हराकर चैंपियनशिप में शीर्ष स्थान हासिल किया और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया. भारतीय टीम ने कुल 44.625 सेकेंड में यह जीत हासिल की.

इससे पहले, टीम स्प्रिंट क्वालीफायर्स में भी भारतीय टीम ने 45.094 सेकेंड के समय के साथ पहला स्थान हासिल किया था. वहीं भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाइनल राउंड में रिकॉर्ड 44.764 सेकेंड के समय के साथ चीन को शिकस्त देते हुए आस्ट्रेलिया के साथ फाइनल में प्रवेश किया.

वहीं भारतीय महिला टीम की बात करें तो टीम ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में अच्छा खेला पर कोई पदक नहीं जीत पाई और स्प्रिंट स्पर्धा में 5वां स्थान हासिल किया.

भारतीय पुरुष टीम के सदस्य एल्बेन ने पिछले साल स्विट्जरलैंड के एगली में आयोजित जूनियर ट्रैक साइकलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी भारत का नाम रौशन किया था. पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में एल्बेन ने रजत पदक जीता था. जिससे भारत उन्होंने के लिए स्वर्ण पदक जीतने की भी उम्मीदें जगा दी थी.

खास बात यह है कि भारतीय टीम ने यह स्वर्ण पदक भारत के 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने नाम किया है. इससे पदक जीतने की खुशी दोगुनी हो गई है. वहीं यह स्वर्ण पदक भारतीयों के लिये स्वतंत्रता दिवस पर किसी गिफ्ट से कम नहीं है.