About Me

header ads

Article 370: संसद में अमित शाह का बड़ा बयान, बोले- सेना को रोका नहीं होता तो...


आर्टिकल 370 पर लोकसभा में जवाब देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि इतने सालों के बाद आज सदन इस एतिहासिक भूल को सुधारने जा रहा है.  कांग्रेस पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि अगर हमारी सेनाओं को तब रोका नहीं गया होता तो आज पीओके (POK) भी हमारा होता.

आज पीओके (POK) भी हमारा होता
अमित शाह ने मनीष तिवारी से सवाल करते हुए कहा कि जब हमारी सेना कश्मीर में आगे बढ़ रही थी और पाकिस्तानी सेना और कबीलाइयों को खदेड़ रही थी तब अचानक युद्ध विराम किसने किया, वो नेहरू जी ने किया और उसी के कारण आज पीओके है. अगर सेनाओं को उस वक्त छूट दी गई होती तो पूरा पीओके भारत का हिस्सा होता.

370 ने देश और दुनिया के मन में शंका पैदा की
इस दौरान गृह मंत्री ने कहा कि यहां उपस्थित एक दो लोगों के अलावा किसी ने अनुच्छेद 370 हटाने का विरोध नहीं किया. वो भी चाहते हैं कि 370 हट जाए, लेकिन उनके सामने वोटबैंक का प्रश्न आ जाता है। देश का बच्चा-बच्चा बोलता है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. हम ये क्यों नहीं बोलते कि यूपी देश का अभिन्न अंग है, तमिलनाडु देश का अभिन्न अंग है. ऐसा इसलिए है क्योंकि 370 ने इस देश और दुनिया के मन में एक शंका पैदा कर दी थी कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है या नहीं.

हम एक ऐतिहासिक कदम उठाने जा रहे हैं
लोकसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने असदुद्दीन ओवैसी को जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि हम एक ऐतिहासिक गलती करने जा रहे हैं. हम गलती नहीं करने जा रहे हैं, हम एक ऐतिहासिक कदम उठाने जा रहे हैं. 5 साल के बाद पीएम मोदी के नेतृत्व में जम्मू-कश्मीर में विकास को देखने को मिलेगा। तब घाटी के लोग आर्टिकल 370 की खामियों को समझ पाएंगे.

कश्मीर के लोगों को सीने से लगाएंगे
1989 से 1995 तक जम्मू कश्मीर में आतंकवाद इतना बढ़ा की वहां सालों तक कर्फ्यू लगाया गया. वहां खाना-पीना तो छोड़िए ब्रेड-बटर तक नहीं मिलता था. हमने J&K में सुरक्षाबल इसलिए रखे हैं कि अगर वहां की कानून व्यवस्था को बिगाड़ना भी चाहे तो उसको मौका नहीं मिलेगा. घाटी के लोग हमारे हैं, हम उनको सीने से लगाएंगे, उनको प्यार से रखेंगे, पूरा हिंदुस्तान उन्हें प्यार से रखेगा। अगर उनके मन में कोई आशंका है तो जरूर चर्चा करेंगे, हमें कोई आपत्ति नहीं है.