About Me

header ads

मैं भागा नहीं, इलाज के लिए छोड़ना पड़ा देश: मेहुल चोकसी


मेहुल चोकसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में एफिडेविट जमा किया है. चोकसी ने कोर्ट को बताया कि वो देश छोड़कर भागा नहीं है, इलाज की वजह से उसने देश को छोड़ा है. इसके साथ ही उसने अपनी बीमारियों की रिपोर्ट भी कोर्ट को सौंपी है.

कोर्ट को जमा किए एफिडेविट के अनुसार वो एंटीगुआ में है और जांच में सहयोग भी करना चाहता है. उसने कहा कि अगर कोर्ट चाहती है तो जांच अधिकारी एंटीगुआ आ सकते हैं, मैं सहयोग के लिए तैयार हूं.

चोकसी ने कोर्ट को बताया कि मैं वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विशेष अदालत और जांच अधिकारियों के सामने आने को तैयार हूं.

एफिडेविट में चोकसी ने प्रवर्तन निदेशालय (ED) और सीबीआई के दावे को गलत बताया है, जिसमें कहा गया कि वह जांच में शामिल नहीं हो रहा हैं. मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देते हुए चोकसी ने कहा कि इलाज के खातिर वह एंटीगुआ के बाहर नहीं जा सकता. इसके साथ ही उसने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) और सीबीआई के अधिकारी एंटीगुआ आकर उनसे पूछताछ कर सकते हैं.

बता दें कि इसके पहले भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने अपनी याचिका पर विचार नहीं किए जाने पर बॉम्बे हाई कोर्ट का रुख किया था. चोकसी ने अपनी याचिका में स्वास्थ्य समस्याओं के कारण भारत वापस नहीं आ पाने और क्रॉस एग्जामिनेशन का अधिकार नहीं मिलने की बात कही थी.

मालूम हो कि चोकसी लगभग 14 हजार करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक फ्राड मामले का मुख्य आरोपी है. यह घोटाला पिछले साल जनवरी में सामने आया था. उसके बाद ही आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी विदेश भाग गया था.