चीन में कोरोना बना काल, सप्ताहभर में 13 हजार लोगों ने जान गंवाई


चीन में कोरोना वायरस ने विकराल रूप धारण कर लिया है. हालात इतने बदतर हो चुके है कि यहां की आबादी का एक बड़ा हिस्सा लगभग संक्रमित हो चुका है. इसी कड़ी में अब चीन ने 13 से 19 जनवरी के दौरान लगभग 13,000 नई COVID से संबंधित मौतों की सूचना दी है. विशेषज्ञों के मुताबिक, देश भर में संक्रमण की लहर पहले ही चरम पर है.

चीन के सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 12 जनवरी तक यहां पर लगभग 60 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. बता दें कि हाल ही में चीन ने यह आंकड़े विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ साझा किए थे. आंकड़ा छिपाने की वजह से वैश्विक स्तर पर चीन की आलोचना हो रही है.

वहीं, बीजिंग में जीरो कोविड पॉलिसी के खिलाफ पिछले साल नवंबर में विरोध प्रदर्शन किए गए थे. भारी विरोध प्रदर्शन को देखते हुए चीन ने बड़े पैमाने पर लगे लॉकडाउन को हटा दिया था. कोविड टेस्टिंग और यात्रा पर लगे प्रतिबंध के हटने के तुरंत बाद ही चीन में ओमिक्रॉन के नए सब-वेरिएंट तेजी से फैलने लगा.

बता दें कि चीन शुरू से ही कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा छिपाता आ रहा है. जब से कोरोना महामारी फैली तभी से चीन ने बताया कि यहां केवल 5 हजार लोगों की मौत हुई है. अधिकारियों का मानना है कि पिछले एक महीने में एक दिन में पांच से ज्यादा या उससे कम मौतों को रिपोर्ट किया जा रहा था, लेकिन अंतिम संस्कार के लिए लग रही लंबी कतारें और अस्पताल में उमड़ी भीड़ कुछ और ही बंया कर रही है.

कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञ का मानना है कि इस साल चीन में कोरोना से दस लाख से अधिक लोगों की मौत हो सकती है. ब्रिटिश-आधारित स्वास्थ्य डेटा फर्म Airfinity का अनुमान है कि इस सप्ताह COVID से होने वाली मौतों की संख्या एक दिन में 36,000 हो सकती है.

21 जनवरी से चीन में शुरू हो रही ल्यूनर नव वर्ष की छुट्टियों के दौरान बड़ी संख्या में लोग यात्राएं करेंगे. इस बीच कुछ क्षेत्रों में संक्रमण बढ़ सकता है. स्वास्थ्य विशेषज्ञ विशेष रूप से इसको लेकर चिंतित हैं. जनवरी 7-21 के दौरान लगभग 110 मिलियन यात्रियों के यात्रा करने का अनुमान किया गया है. अवकाश अवधि के दौरान लोगों महामारी और भी ज्यादा फैल सकती है.

चाइना सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुख्य महामारी विज्ञानी वू ज़ुन्यो ने 21 जनवरी को वीबो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कहा कि निकट भविष्य में दूसरी COVID लहर की संभावना नहीं है. वू ने कहा कि अगले दो या तीन महीने दूरस्थ हैं क्योंकि 80% लोग संक्रमित हो चुके हैं.