बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के इस्तीफे पर बोले सुशील मोदी, कहा-2 महीने में ही 2 विकेट गिर गया

 बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने एक बार फिर नीतीश सरकार पर हमला बोला है। बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद सुशील मोदी ने कहा कि 2 महीने में ही बिहार सरकार का दूसरा विकेट गिर गया। अभी नीतीश कुमार की फजीहत और होनी बाकी है। यह लड़ाई अब जगदा बाबू बनाम नीतीश कुमार की लड़ाई में बदल गई है। अगला विकेट जगदा बाबू का भी हो सकता है?


बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह के इस्तीफे के बाद अब कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने भी इस्तीफा सौंप दिया है। सुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद से बिहार की राजनीतिक गलियारों में भूचाल मचा हुआ है। इसे लेकर बीजेपी महागठबंधन की सरकार को घेरने में लगी है। इस्तीफे की खबर आते ही बीजेपी नीतीश सरकार पर हमलावर हो गयी है। यूं कहे की बीजेपी को एक बार फिर महागठबंधन की सरकार पर हमला बोलने का मौका मिल गया है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है। वही बीजेपी नेता व बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के बाद पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी भी अब नीतीश सरकार पर हमलावर हो गये है। 

बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कहा कि दो महीने के भीतर नीतीश सरकार के दो मंत्रियों का इस्तीफा हो गया। दो महीने में दो विकेट गिर चुका है। नीतीश कुमार की और फजीहत होना बाकि है। जगदानंद ने दो दिन पहले जो बयान दिया था कहा था कि 2023 में तेजस्वी बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे और नीतीश जी बिहार छोड़कर दिल्ली की राजनीति में जाएंगे। कही ना कही उसकी कीमत जगदाबाबू को अपने बेटे के बलिदान के रूप में चुकानी पड़ गयी। और इनकी लड़ाई जगदा बाबू बनाम नीतीश कुमार में बदल जाएगी। 

सुशील मोदी ने कहा कि यह मोछ की लड़ाई इन्ही दो नेताओं के बीच है। अब देखते है कि कौन जीतता है। हमने तो पहले ही कहा था कार्तिकेय सिंह को मंत्री नहीं बनाना चाहिए था। उन पर अपराध के गंभीर आरोप है जिसके बाद उनसे इस्तीफा हुआ।  हमने सुधाकर सिंह पर भी आरोप लगाया था कि राज्य खाद्य निगम का करोड़ों रुपया इन पर बकाया है। इन पर गबन का आरोप है इन्हें जेल भी जाना पड़ा था। 60 लाख जमा करने पर इन्हें बेल मिला था। सुधाकर सिंह पर भ्रष्टाचार का मामला चल रहा है