*दिव्यांग बच्चों के साथ पप्पू सरदार ने मनाया माधुरी दीक्षित का जन्मदिन*

 माधुरी दीक्षित के सबसे बड़े फैन पप्पू सरदार ने माधुरी दीक्षित के जन्मदिन को एक बार फिर यादगार बना दिया .जब जमशेदपुर के चेशायर होम में पप्पू सरदार ने दिव्यांग बच्चों के साथ माधुरी दीक्षित के जन्मदिन को धूमधाम से मनाया। 



पप्पू सरदार ऐसा आयोजन  1996 से करते हैं गरीब और जरूरतमंद लोगों के बीच जाकर उनको खुशियां देना ही उनका मकसद रहा है ।वजह भले ही माधुरी दीक्षित का जन्मदिन हो पप्पू सरदार जमशेदपुर के सेलिब्रिटी है सिर्फ यही नहीं पूरे इस अवसर पर  झारखंड से लोग आते हैं। पप्पू सरदार के उस माधुरी प्रेम को देखा जा सकता है जहाँ  इस बार दिव्यांग बच्चों के साथ केक काटना उनके साथ समय बिताना।और उसके बाद पप्पू सरदार ने पहले तो भगवान गणेश की  पूजा अर्चना की उसके तदोपरांत माधुरी दीक्षित के नाम का केक काटकर अपनी खुशी का इजहार किया माधुरी दीक्षित के फिल्मों के नाम का कपड़ा पहने हुए थे। पप्पू सरदार अलग से दिख रहे थे माधुरी दीक्षित के प्रति उनका अगाध प्रेम जमशेदपुर वासियों से छुपा नहीं है ।और जमशेदपुर वासी उन्हें प्यार से पप्पू भाई कहकर पुकारते हैं  कभी आसनसोल में जाकर दुर्बार  महिलाओं को जरूरत की चीजें देना कवि दिव्यांग बच्चों को खुशियां देना यह सब आज उनके जीवन का एक अंग है। जब रात के 12:00 बजते हैं पप्पू सरदार माधुरी जी के नाम का केक काटते हैं और वहां हजारों की तादाद रह्ती है  यह पहली बार नहीं है पप्पू सरदार से माधुरी दीक्षित की मुलाकात यादगार है ।अपने तमाम मीडिया प्रशंसकों के बीच पप्पू सरदार ने कहा माधुरी दीक्षित के साथ इस बार भारत के स्वर कोकिला स्व  लता मंगेशकर को भावभीनी श्रद्धांजलि दी है और यह श्रद्धांजलि तभी पूरी होगी जब भारत सरकार उनके नाम का उनके नाम को सम्मान देगी और जिस तरह भारत सरकार ने उन्हें भारत रत्न दिया था इस बार उनके नाम का सिक्का जारी करें ।सिर्फ यही नहीं पप्पू सरदार माधुरी दीक्षित के नाम पर हमेशा कुछ न कुछ सरप्राइज  रखते हैं और 15 मई को माधुरी दीक्षित का जन्मदिन के दिन अपनी दुकान मनोहर चार्ट लोगों के लिए फ्री कर देते हैं। माधुरी दीक्षित के प्रति उनका प्रेम झारखंड नहीं भारत वासियों को भी अब आने लगा है।