पंजाब में पीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक: नरेंद्र मोदी ने अफसरों से कहा-मैं जिंदा लौट रहा हूं, इसके लिए अपने CM को थैंक्स बोल देना

 पंजाब के फिरोजपुर में रैली करने गये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा रद्द हो गयी. सुरक्षा में चूक की वजह से रैली रद्द कर दी गयी. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक के कारण उनका कार्यक्रम बीच में ही रद्द कर दी गयी. बगैर रैली किये पंजाब से वापस लौट रहे प्रधानमंत्री मोदी ने स्थानीय अधिकारियों को कहा-अपने मुख्यमंत्री को थैंक्स कहना कि मैं एयरपोर्ट तक जिंदा लौट आया. 



प्रधानमंत्री का कार्यक्रम बीच में ही रद्द होने के बाद बीजेपी ने कहा है कि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने मोदी की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर बड़ी साजिश रची है. हालांकि किसान संगठन औऱ कांग्रेस अलग दावा कर रहे हैं. उनका कहना है कि किसानों के विरोध और लोगों द्वारा प्रधानमंत्री को रिजेक्ट कर दिये जाने के कारण रैली को रद्द करना पड़ा. 



दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब के फिरोजपुर में चुनावी रैली थी. किसान आंदोलन खत्म होने के बाद वह पहली बार पंजाब आए थे. प्रधानमंत्री मोदी का विमान बठिंडा एय़रपोर्ट पर उतरा. उसके बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से आगे जाना था लेकिन खराब मौसम की वजह से हेलीकॉप्टर नहीं उड़ पाया. लगभग 20 मिनट इंतजार करने के बाद वे सड़क के जरिए हुसैनीवाला के राष्ट्रीय शहीद स्मारक तक जाने के लिए निकले. सड़क मार्ग से जाने में उन्हें 2 घंटे से ज्यादा का वक्त लगना था. प्रधानमंत्री की सुरक्षा की कमान संभालने वाले एसपीजी को पंजाब के डीजीपी ने भरोसा दिलाया था कि सुरक्षा के बंदोबस्त कर दिये गये हैं. इसके बाद पीएम का काफिला निकला. 

सड़क पर फंसे रहे मोदी

बठिंडा एयरपोर्ट से हुसैनीवाला जा रहे प्रधानमंत्री का काफिला जब राष्ट्रीय शहीद स्मारक से लगभग 30 किलोमीटर पहले एक फ्लाई ओवर पर पहुंचा तो वहां प्रदर्शनकारियों ने रोड ब्लॉक कर रखी थी. रोड जाम होने के कारण बीच सड़क पर प्रधानमंत्री मोदी फंस गये. तकरीबन 20 मिनट तक प्रधानमंत्री रोड पर फंसे रहे. सुरक्षा के ख्याल से बेहद संवेदनशील माने जाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बीच सड़क पर फंसे रहना सुरक्षा में बड़ी चूक मानी जा रही है.