विराट कोहली ने किया एलान, टी20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद छोड़ देंगे भारतीय टी20 टीम की कप्तानी

भारतीय क्रिकेट टीम के तीनों फार्मेट के कप्तान विराट कोहली ने क्रिकेट के सबसे छोटे फार्मेट की कप्तानी छोड़ने की घोषणा कर दी है। लंबे समय से उनकी कप्तानी को लेकर बातें की जा रही थी। कुछ दिन पहले ही यह खबर आई थी कि वह टी20 विश्व कप खत्म होने के बाद इस फार्मेट की कप्तानी छोड़ देंगे। गुरुवार 16 सितंबर को शाम उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए इस बात की जानकारी दी।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने ट्वीटर के जरिए इस बात का एलान कर दिया है कि, वो टी20 वर्ल्ड कप 2021 के ठीक बाद भारतीय टी20 टीम की कप्तानी छोड़ देंगे। इसके बाद वो भारतीय वनडे व टेस्ट टीम की कप्तानी करते रहेंगे। विराट कोहली के इस कदम के बाद अब पूरी संभावना है कि रोहित शर्मा को भारतीय टी20 टीम की को कप्तानी सौंपी जाएगी। रोहित शर्मा आइपीएल में सबसे सफल कप्तान हैं और उनका रिकार्ड शानदार है। विराट कोहली ने अपने उपर लगातार बढ़ते दवाब की वजह से ये कदम उठाया है। कम से कम एक प्रारूप की कप्तानी छोड़ने के बाद उनके उपर से दवाब हटेगा और वो ठीक तरीके से अपनी बल्लेबाजी पर भी ध्यान दे पाएंगे। 

विराट के टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद अब यह तय हो गया है कि रोहित शर्मा को इस फार्मेट में टीम की कमान सौंपी जाएगी। विराट की जगह लंबे समय से उनको इस फार्मेट में कप्तान बनाए जाने की मांग की जा रही थी। विराट कोहली ने अपने ट्वीट में लिखा कि, टी20 प्रारूप से कप्तानी छोड़ने पर बयान जारी करते हुए विराट कोहली ने कहा है, "मैं न केवल भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए, बल्कि अपनी पूरी क्षमता के साथ भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व करने के लिए भाग्यशाली रहा हूं। मैं उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में मेरे सफर में मेरा साथ दिया। मैं उनके बिना यह नहीं कर सकता था। टीम के खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ, चयन समिति, मेरे कोच और प्रत्येक भारतीय जिन्होंने हमारे जीतने के लिए प्रार्थना की।"

उन्होंने आगे लिखा, "कार्यभार को समझना बहुत महत्वपूर्ण बात है और पिछले 8-9 वर्षों में सभी 3 प्रारूपों में खेलने और पिछले 5-6 वर्षों से नियमित रूप से कप्तानी करने पर मेरे अत्यधिक कार्यभार को देखते हुए, मुझे लगता है कि मुझे भारतीय टीम का नेतृत्व करने के लिए पूरी तरह से वनडे और टेस्ट में तैयार होने के लिए खुद को स्थान देने की आवश्यकता है। मैंने टी20 कप्तान के तौर पर अपने समय में टीम को सब कुछ दिया है और आगे बढ़ते हुए एक बल्लेबाज के तौर पर टी20 टीम के लिए ऐसा करना जारी रखूंगा।"

विराट ने अपने बयान के आखिरी पैरा में कहा है, "बेशक, इस निर्णय पर पहुंचने में बहुत समय लगा। अपने करीबी लोगों, रवि (शास्त्री) भाई और रोहित, जो नेतृत्व समूह का एक अनिवार्य हिस्सा रहे हैं, उनके साथ बहुत चिंतन और चर्चा के बाद, मैंने अक्टूबर में दुबई में इस टी20 विश्व कप के बाद टी 20 कप्तान के रूप में पद छोड़ने का फैसला किया है। मैंने सभी चयनकर्ताओं के साथ सचिव जय शाह और बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली से भी इस बारे में बात की है। मैं अपनी पूरी क्षमता से भारतीय क्रिकेट और भारतीय टीम की सेवा करता रहूंगा।"