बिहार में चिराग को नया झटका, वैशाली की सांसद वीणा देवी बनीं LJP पारस गुट संसदीय बोर्ड की अध्‍यक्ष

लोक जनशक्ति पार्टी के पशुपति पारस गुट (LJP Pashupati Paras Faction) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष व केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस (Pashupati Paras) ने सांसद वीणा देवी (MP Veena Devi) को संसदीय बोर्ड का अध्‍यक्ष मनोनीत किया है। इस बाबत केंद्रीय मंत्री ने पत्र जारी किया है। उनसे संगठन को मजबूत करने की अपील की है। इस मौके पर सांसद व प्रदेश अध्‍यक्ष प्रिंसराज, नवादा के सांसद चंदन सिंह भी मौजूद थे। इस तरह से अब एलजेपी में किसी पद पर जमुई के सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) नहीं रह गए हैं। पार्टी में टूट के बाद संस्‍थापक स्‍व रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) के पुत्र चिराग पासवान के लिए इसे बड़ा झटका माना जा रहा है। वे अब तक पार्टी संसदीय दल के नेता थे। 

विदित हो कि चिराग पासवान के नेतृत्‍व वाली एलजेपी से बीते दिनों छह सांसदोंं ने बगावत कर दी थी। इसको लेकर काफी सियासत हुई। पार्टी सांंसदों ने पारस को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुन लिया। बगावत करने वाले सांसदों में से एक वीणा देवी भी हैं। वैशाली की सांसद वीणा देवी इससे पूर्व विधायक रह चुकी हैं। उनके पति दिनेश सिंह जदयू के विधान पार्षद हैं। पारस ने वीणा देवी को यह जिम्‍मेदारी सौंपकर दो संदेश दिया है। एक तो वे महिला हैं तो दूसरी ओर अगड़ी जाति से आती हैं। 

चिराग की आपत्तियों के बावजूद मंत्री बनाए गए पारस

मालूम हो कि चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस बगावत करने के बाद केंद्र में मंत्री बनाए गए। इसको लेकर चिराग पासवान ने काफी आपत्ति जताई थी। उनका कहना था कि वे एलजेपी के अध्‍यक्ष हैं। इसलिए बगावत करने वाले किसी सांसद को एलजेपी के नाम पर मंत्री नहीं बनाया जा सकता। हालांकि, उनकी तमाम आपत्तियों को दरकिनार करते हुए केंद्र में खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्री की जिम्‍मेदारी पारस को सौंपी गई।  

संगठन को मजबूत करने में जुटे हुए हैं पशुपति पारस

इधर पशुपति पारस संगठन की मजबूती में जुटे हुए हैं। कई नेताओं को पार्टी में शामिल कराया गया है। इसी क्रम में छात्र आरजेडी के प्रदेश अध्‍यक्ष पद से हटाए गए आकाश यादव को पार्टी में शामिल कराया गया था। वहीं दूसरी ओर चिराग पासवान राज्‍य भर में आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं।