बेंगलुरु के एक स्कूल में कोरोना विस्फोट, 60 स्टूडेंट पाए गए पाजिटिव, स्कूल को किया गया बंद

देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार कम हो रहे हैं। इस बीच कई राज्यों में स्कूलों को खोला जा रहा है। लेकिन इसी बीच कर्नाटक के बेंगलुरू शहर में एक स्कूल में 60 स्टूडेंट के कोरोना पाजिटिव पाए जाने का मामला सामने आया है। इसके बाद स्कूल को बंद कर दिया गया है। बेंगलुरु के इलेक्ट्रानिक सिटी के एक रेसिडेंशियल स्कूल के 60 स्टूडेंट्स कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए। इनमें से एक छात्र को तेज बुखार था, जिसका लेडी कर्जन एंड बॉरिंग हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। श्री चैतन्य गर्ल्स रेजिडेंशियल स्कूल के बाकि स्टूडेंट्स को स्कूल परिसर में ही आइसोलेट किया गया है।

सिविक बाडी के अधिकारियों ने बताया कि प्राइवेट हेल्थ फैसिलिटी के कर्मचारी उनकी देखभाल कर रहे हैं। स्कूल को बंद कर दिया गया है और 20 अक्टूबर या उसके बाद फिर से खुल सकता है।

बेंगलुरु के डिप्टी कमिश्नर जे मंजूनाथ ने बताया कि स्कूल का नाम श्री चैतन्य शिक्षण संस्थान है। रविवार की शाम एक छात्र ने उल्टी और दस्त की शिकायत की। जिसके बाद हम तुरंत हरकत में आ गए। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि स्कूल में कुल 480 छात्र थे, सभी की जांच की गई। उनमें से 60 स्टूडेंट की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

श्री चैतन्य शिक्षण संस्थान के 60 स्टूडेंट के कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद बाकी बचे स्टूडेंट को स्कूल परिसर में ही आइसोलेशन सेंटर में रखा गया है। ये सभी बिना लक्षण वाले हैं। नगर निकाय के अधिकारियों ने कहा कि एक निजी स्वास्थ्य सुविधा के कर्मचारी उनकी देखभाल कर रहे हैं। स्कूल अब बंद कर दिया गया है और 20 अक्टूबर या उसके बाद फिर से खुल सकता है।