Grenade Attack In Pulwama : पुलवामा में पुलिस-सीआरपीएफ के गश्ती दल पर ग्रेनेड हमला, 3 नागरिक घायल

जिला पुलवाला में राजपुरा चौक में गश्त लगा रहे सीआरपीएफ-पुलिस के जवानों पर आतंकवादियों ने ग्रेनेड हमला किया। गनीमत यह रही कि ग्रेनेड निशाने पर न फटकर सुरक्षाबलों से कुछ दूरी पर जाकर फटा, जिसकी चपेट में आने से तीन स्थानीय लोग घायल हो गए। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

पुलिस ने बताया कि यह हमला दोपहर करीब पौने एक बजे किया गया। पुलवामा के राजपुरा चौक में स्थित शहीद पार्क के पास जब सीआरपीएफ-पुलिस का संयुक्त दल सुरक्षा व्यवस्था पर नजर रखे हुए थे। तभी भीड़ का फायदा लेते हुए कुछ हमलावर धीरे-धीरे सुरक्षाबलों के नजदीक पहुंचे और उन पर ग्रेनेड दाग दिया। आतंकवादियों द्वारा फेंका गया यह ग्रेनेड निशाने पर न गिरकर सड़क के दूसरी तरफ गिरा और फट गया। ग्रेनेड की चपेट में आकर करीब तीन स्थानीय लोग घायल हो गए।

विस्फोट के बाद बाजार में अफरातफरी फैल गई। लोगों ने चीख-पुकार मचाना शुरू कर दिया। मौके का फायदा उठाकर हमलावर वहां से फरार होने में सफल रहे। इस बीच सुरक्षाबलों ने हमले में घायल स्थानीय लोगों को उठाकर उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पताल में पहुंचाया। उनका इलाज चल रहा है। इस बीच सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे एसओजी, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने राजपुरा चौके के आसपास के इलाकों की घेराबंदी शुरू कर दी है।

घेराबंदी होने के बाद इलाके में आतंकियों की तलाश शुरू की जाएगी। वहीं, पुलिस ने बताया कि वह बाजार में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाल रही है। हमलावरों की पहचान होते ही उनकी धरपकड़ शुरू कर दी जाएगी। वहीं हमले में घायल तीन लोगों में से दो की पहचान हो गई है। इनमें जितेंद्र कुमार निवासी बिहार और अजहर खुर्शीद निवासी डालीपोरा पुलवामा शामिल हैं।

आपको जानकारी हो कि एक सप्ताह के भीतर कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा सुरक्षाबलों पर यह दूसरा ग्रेनेड हमला है। इससे पहले 10 सितंबर को आतंकवादियों ने श्रीनगर के छनपोरा इलाके में सीआरपीएफ के गश्ती दल पर ग्रेनेड हमला किया था। वह हमला भी निशाने से चूक गया, परंतु हमले में एक जवान समेत दो लोग घायल हुए, जिसमें स्थानीय महिला शामिल थी। सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश केे लिए इलाके में सर्च ऑपरेशन भी चलाया परंतु उनका पता नहीं चल पाया।