Janmashtami 2021: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से होगा पालन, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कड़े निर्देश

उत्तर प्रदेश में जन्माष्टमी के अवसर पर सुरक्षा-व्यवस्था के कड़े बंदोबस्त होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाइट कर्फ्यू का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने निर्देश दिया है कि कोरोना प्रोटोकाल को लेकर जो गाइडलाइन निर्धारित की गई है, उनका पालन किया जाए। सीएम योगी के निर्देश के बाद डीजीपी मुकुल गोयल ने अधीनस्थों को जन्माष्टमी पर कोविड-19 की गाइडलाइन का कड़ाई से पालन कराने की हिदायत दी है। डीजीपी ने 30 अगस्त को जन्माष्टमी के अवसर पर होने वाले सभी कार्यक्रमों में शारीरिक दूरी, मास्क व कोविड-19 को लेकर जारी अन्य निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने को कहा है। इसके लिए अधिकारियों को खुद भ्रमणशील रहकर प्रभावी अनुपालन कराने के निर्देश दिए गए हैं।

डीजीपी मुकुल गोयल ने पुलिस वाहनों पर लगे लाउडस्पीकर और अन्य माध्यमों से लोगों को मास्क पहनने व शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए जागरूक करने के कहा। उन्होंने खासकर इंटरनेट मीडिया पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि किसी भी प्रकार के भ्रामक या आपत्तिजनक संदेश पर त्वरित कार्रवाई की जाए। इसके अलावा संवेदनशील स्थानों पर पुलिस पिकेट व गश्त बढ़ाई जाए। थाना स्तर पर सांप्रदायिक व शरारती तत्वों पर भी कड़ी नजर रखे जाने के कड़े निर्देश दिए गए हैं। डीजीपी ने छोटी से छोटी घटना को भी गंभीरता से लेकर समुचित कार्रवाई करने को कहा है। संवेदनशील क्षेत्रों में सघन चेकिंग का निर्देश भी दिया गया है।

जन्माष्टमी पर बनी रहेगी बिजली : ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने जन्माष्टमी के मौके पर पूरे प्रदेश में निर्धारित शिड्यूल के मुताबिक बिजली की आपूर्ति करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बिजली आपूर्ति की समीक्षा करते हुए अफसरों से कहा है कि बाधा रहित बिजली आपूर्ति हर हाल में सुनिश्चित की जाए। त्योहार पर पूरी सजगता बरती जाए। जन्माष्टमी प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश का प्रमुख त्योहार है। प्रदेश की जनता इस त्योहार को बड़े उत्साह से मनाती है। इसलिए इसमें किसी भी प्रकार की बाधा नहीं आनी चाहिए। श्रीकांत शर्मा ने कहा कि गांवों से लेकर महानगरों तक में भगवान श्रीकृष्ण के जीवन लीला को लेकर झांकियां सजाई जाती हैं, इसलिए अधिकारियों की यह जिम्मेदारी है कि प्रदेश के प्रत्येक क्षेत्र को निर्धारित शिड्यूल के अनुसार बिजली आपूर्ति की जाए। उन्होंने अधिकारियों को रात में पेट्रोलिंग करने व स्थानीय स्तर पर आ रही दिक्कतों को तत्काल दूर कराने के निर्देश दिए।