सोनिया के बाद आज पवार, कनिमोझी व अन्य नेताओं से मुलाकात कर सकती हैं ममता, केंद्रीय मंत्री गडकरी से भी मिलेंगी

भाजपा के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने के लिए बंगाल की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी जो राष्ट्रीय राजधानी के पांच दिवसीय दौरे पर हैं, आज उसका चौथा दिन है।ममता ने बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ अलग-अलग मुलाकात की थी। ममता का आज गुरुवार को भी बहुत व्यस्त कार्यक्रम है और वह कई विपक्षी नेताओं से मिल सकती हैं।

तृणमूल सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री आज एनसीपी प्रमुख शरद पवार के साथ भी मुलाकात कर सकती हैं। वहीं, तय कार्यक्रम के अनुसार ममता आज केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के साथ भी मुलाकात करेंगी। गडकरी के साथ दोपहर 2:00 बजे से ममता की बैठक का कार्यक्रम है। इसके बाद शाम 4:00 बजे से डीएमके की सांसद कनिमोझी के साथ ममता की मुलाकात का कार्यक्रम है। इसके पश्चात शाम 5:00 बजे से ममता जाने-माने गीतकार जावेद अख्तर व उनकी पत्नी शबाना आजमी के साथ भी मिलेंगी। खबर यह भी है कि ममता राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के साथ भी मुलाकात कर सकती हैं।

गौरतलब है कि पांच दिवसीय दौरे के बाद ममता 30 जुलाई यानी शुक्रवार को कोलकाता लौट आएंगी। इससे पहले वह सभी विपक्षी नेताओं के साथ मिल लेना चाहती हैं। बता दें कि इससे पहले ममता ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी बैठक के बाद यह स्पष्ट करते हुए कि वह भाजपा के खिलाफ एक राजनीतिक मोर्चा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगी, बनर्जी ने कहा, विपक्षी एकता अपने आप आकार ले लेगी।

मुख्यमंत्री, जो आशान्वित हैं कि क्षेत्रीय दल भाजपा के खिलाफ राजनीतिक मोर्चा विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे, ने कहा, लोकसभा चुनावों में तीन साल से भी कम समय है और हमें समय बर्बाद नहीं करना चाहिए। हमें हाथ मिलाना चाहिए और भाजपा से मिलकर लड़ने के लिए तैयारी अभी से शुरू होनी चाहिए।

बताते चलें कि बंगाल चुनाव में प्रचंड जीत के बाद ममता का यह पहला दिल्ली दौरा है।