10 फीसद से ज्यादा संक्रमण दर वाले जिलों में सख्त रोकथाम करें राज्य, केंद्र सरकार ने लिखा पत्र

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में सुधरते हालात के बीच केंद्र ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को अत्यधिक सावधान रहने को कहा है। राजस्थान, त्रिपुरा, असम, केरल और बंगाल समेत 14 राज्यों को लिखे पत्र में केंद्र ने कहा है कि जिन जिलों में 21-27 जून के बीच कोरोना संक्रमण की दर 10 फीसद से ज्यादा थी, वहां रोकथाम के उपायों को सख्ती के साथ लागू किया जाए।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखे पत्र में कहा है कि मामलों में कमी आने के साथ ही निगरानी बढ़ाना अनिवार्य हो गया है। उन्होंने जिला और तहसील स्तर पर निगरानी बढ़ाने की जरूरत पर जोर दिया है। नए मामलों वाले क्षेत्रों की पहचान करने के लिए जिला नोडल अधिकारी जिलाधिकारी/ नगर आयुक्त के साथ मिलकर काम करें। साथ ही जरूरत के हिसाब से जरूरी रोकथाम के उपायों का क्रियान्वयन सुनिश्चित करें।

भूषण ने 29 जून को लिखे पत्र में कहा है कि हालात सुधरने के साथ ही प्रतिबंधों को उठाया जा रहा है और उनमें छूट दी जा रही है, लेकिन इसका फैसला बहुत ही सोच समझकर, सावधानीपूर्वक और परिस्थितियों का अध्ययन करने के बाद किया जाना चाहिए। भूषण ने उपरोक्त राज्यों के अलावा मणिपुर, सिक्किम, पुडुचेरी, ओडिशा, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश और हिमाचल प्रदेश को भी पत्र लिखा है।

भूषण ने अपने पत्र में गृह मंत्रालय के 29 अप्रैल के आदेश का भी जिक्र किया है, जिसमें कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सभी राज्यों से सख्त उपाय करने को कहा गया था। भूषण ने कहा है कि ज्यादा संक्रमण दर वाले जिलों में हालात में सुधार करने के लिए सख्त उपाय किए जाने जरूरी हैं। उन्होंने संबंधित राज्यों में 10 फीसद से ज्यादा संक्रमण दर वाले जिलों का भी जिक्र किया है।

14 दिनों तक सख्ती लागू रखें

भूषण ने कहा कि जो जिला प्रशासन संक्रमण दर को देखते हुए पाबंदियां लगाने का फैसला करता है तो उसे 14 दिनों तक प्रभावी रखा जाए। जिले के जो इलाके कंटेनमेंट जोन में नहीं हों, वहां प्रतिबंधों में छूट दी जा सकती है या पाबंदियों को हटाया जा सकता है।

कोरोना/वैक्सीन मीटर (आंकड़े टैली फारमेट के लिए)

भारत, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

24 घंटे में नए मामले, 45,951

कुल सक्रिय मामले, 5,37,064

24 घंटे में टीकाकरण, 36.41 लाख

अब तक कुल टीकाकरण, 33.28 करोड

बुधवार सुबह आठ बजे तक कोरोना की स्थिति

कुल मामले 3,03,62,848

मौतें 817

कुल मौतें 3,98,454

स्वस्थ 60.729

कुल स्वस्थ 2,94,27,330

दैनिक संक्रमण दर 2.34 फीसद

जांचें (मंगलवार) 19,60,757

कुल जांचे (मंग.तक) 41,01,00,044

सक्रिय मामले साढ़े पांच लाख से नीचे आए

कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में भारत की स्थिति लगातार बेहतर हो रही है। संक्रमण के नए मामले कम हो रहे हैं और ज्यादा मरीज ठीक हो रहे हैं। इसके परिणामस्वरूप सक्रिय मामलों में लगातार गिरावट आ रही है और इनकी संख्या साढ़े पांच लाख से नीचे आ गई है।

एक दिन में 817 लोगों की मौत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बुधवार सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक देश में सक्रिय मामले कुल संक्रमितों का 1.77 फीसद रह गए हैं। लगातार तीसरे दिन मृतकों की संख्या हजार से नीचे रही है। वास्तव में 81 दिन बाद सबसे कम 817 लोगों की मौत हुई है। बीते 24 घंटे में 50 हजार से कम नए केस मिले हैं, हालांकि, एक दिन पहले की तुलना में नए मरीजों की संख्या कुछ ज्यादा है लेकिन मरीजों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 96.92 फीसद हो गई है और मृत्युदर 1.31 फीसद पर बनी हुई है।