Srinagar Petrol Bomb Attack : सीआरपीएफ कैंप पर पेट्रोल बम हमला, सभी सुरक्षित, हमले में OGW का हाथ

 

कश्मीर घाटी में कोरोना महामारी के बीच आतंकवाद के खिलाफ जंग जारी रखे हुए सुरक्षाबलों को रात के अंधेरे में निशाना बनाने का प्रयास किया जा रहा है। श्रीनगर के डाउन टाउन इलाके सराफ कदल इलाके में कुछ अज्ञात लोगाें ने पेट्रोल बम से हमला किया। गनिमत यह है कि यह बम निशाने पर न लग चौकी से कुछ दूरी पर फटा। सभी सुरक्षित हैं। हमलावरों की तलाश के लिए सुरक्षाबलों का रात से सर्च ऑपरेशन जारी है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि यह हमला आतंकवादी संगठनों ने उनके लिए काम करने वाले ओवर ग्राउंड वर्करों द्वारा करवाया है। उनका पता लगाया जा रहा है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह हमला शुक्रवार देर रात को हुआ। कुछ अज्ञात हमलावर सराफ कदल इलाके में स्थित सीआरपीएफ की 23 बटालियन के कैंप के नजदीक आए और पेट्रोल बम से हमला कर वहां से फरार हो गए। इससे पहले की सुरक्षाकर्मी हमलावरों को पकड़ते वे अंधेरे का फायदा उठाकर वहां से गायब हो गए। पेट्रोल बम भी सुरक्षा चौकी पर न लगकर उससे कुछ दूरी पर जाकर फटा। इस हमले में किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ है।

हमले के तुरंत बाद ही सीआरपीएफ, सेना और पुलिस की टीम वहां पहुंच गई और हमलावरों की तलाश शुरू कर दी। परंतु कुछ भी पता नहीं चला है। आज सुबह एक बार फिर सुरक्षाबलों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ है। हमलावरों का पता लगाने के लिए लोगों से पूछताछ भी की जा रही है। वहीं पुलिस का कहना है कि उन्होंने अपने सूचना तंत्रों को सक्रिय कर दिया है। जल्द ही कैंप पर हमला करने वाले लोगों का पता लगा दिया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि हमला करने वाले आतंकी तो नहीं थे, अलबत्ता उनके लिए काम करने वाले अंडरग्राउंड वर्कर हो सकते हैं। फिलहाल इलाके में शांति बनी हुई है।