ममता ने मैनिफेस्टो में हर वर्ग को लुभाया

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने बुधवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। ममता बनर्जी ने कहा कि अबकी बार यदि उनकी सरकार बनी, तो बंगाल के सभी वर्गों के लोगों के लिए मासिक आय सुनिश्चित की जायेगी। सामान्य वर्ग के 1।6 करोड़ परिवारों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के परिवारों को प्रति वर्ष 12,000 रुपये दिये जायेंगे।

ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल के लोगों को खाद्य के साथ-साथ शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं सबको मुफ्त में मिल रही हैं। अब सरकार ने उनकी नियमित आय की व्यवस्था भी कर दी है। ममता ने कहा कि इस योजना के तहत सामान्य वर्ग के 1।6 करोड़ परिवार लाभान्वित होंगे। इन्हें साल में 6,000 रुपये सरकार देगी।

ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल के किसानों को 5,000 रुपये मिलते थे, जिसे बढ़ाकर 6,000 रुपये किया गया है। अबकी बार तृणमूल की बंगाल में सरकार बनी, तो राज्य के किसानों को प्रति वर्ष 10,000 रुपये दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि देश के किसानों की तुलना में बंगाल के किसानों की आय तीन गुणा अधिक है।

महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए ममता बनर्जी ने नये सिरे से 10 लाख सेल्फ हेल्फ ग्रुप तैयार करने का घोषणा पत्र में वादा किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए उन्होंने बजट में भी इसका प्रावधान किया था।

युवा वोटरों को आकर्षित करने के लिए ममता बनर्जी ने स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बिना किसी गारंटर के बंगाल के विद्यार्थियों को 10 हजार रुपये तक का लोन मिल सकेगा। सरकार उनका गारंटर बनेगी। इससे बच्चों की पढ़ाई का बोझ माता-पिता पर नहीं पड़ेगा। तृणमूल कांग्रेस के घोषणा पत्र के जरिये उन्होंने युवा, महिला और किसानों को लुभाया। सभी वर्ग के गरीब परिवारों की मासिक आय सुनिश्चित करने का वादा अपने घोषणा पत्र में किया।