साल 2024 तक आ जाएगी Apple की कार! एडवांस बैटरी टेक्नोलॉजी मिलेगी



अमेरिकी टेक्नोलॉजी दिग्गज ऐपल (Apple) साल 2024 तक कारों का उत्पादन शुरू कर सकती है. यह पैसेंजर कार उसकी अपनी एडवांस बैटरी टेक्नोलॉजी पर आधारित होगी. 

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक कंपनी प्रोजेक्ट टाइटन के नाम से साल 2014 से ही ऑटो सेक्टर में कदम रखने के लिए काम कर रही है, जब कंपनी ने अपने वाहन का एक डिजाइन तैया​र किया था. लेकिन बाद में कंपनी ने कदम कुछ पीछे खींचे थे और अपना ध्यान सॉफ्टवेयर पर केंद्रित किया था.

190 लोगों की टीम

रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है और अभी ऐपल ने खुद इस प्रोजेक्ट की जानकारी सार्वजनिक नहीं की है. साल 2018 में ऐपल के पूर्व वरिष्ठ कर्मचारी डोग फील्ड कंपनी में लौट आए इस ऑटो प्रोजेक्ट को ही देखने के लिए. तब वह टेस्ला इंक में काम कर रहे थे. उन्होंने 190 लोगों की एक टीम तैयार की. 

कंज्यूमर के लिए उपयोगी वाहन

इसके बाद से ऐपल ने इस मामले में काफी प्रगति की है. न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि अब कंपनी का लक्ष्य उपभोक्ताओं के लिए उपयोगी एक वाहन बनाने का है. ऐपल ने अभी अपनी इस योजना को सार्वजनिक नहीं किया है.

गूगल से होगा मुकाबला 

ऐपल को आम जनता के लिए उपयोगी वाहन बनाने में कई अन्य दिग्गजों से मुकाबला करना पड़ सकता है. गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट इंक भी Waymo के नाम से रोबो टैक्सी तैयार कर चुकी है जो कि एक ड्राइवरलेस कार है. 

ऐपल की रणनीति मूल रूप से एक ऐसी नई बैटरी डिजाइन करने की है जो बैटरियों की लागत काफी कम कर दे और वाहन के चलने के घंटे यानी रेंज में काफी बढ़त कर दे. कंपनी ने इस खबर पर अभी किसी तरह की टिप्पणी करने से इंकार किया है. 

गौरतलब है कि ऐपल दुनियाभर में एक प्रतिष्ठा रखने वाला ब्रैंड है और फोन, टैबलेट से लेकर फिटनेस बैंड तक के उसके प्रोडक्ट काफी प्रीमियम क्वालिटी के होते हैं और लोगों में इनका जबरदस्त क्रेज होता है.