बंगाल: बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या, राज्यपाल ने CM ममता बनर्जी को किया तलब

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और शीर्ष अधिकारियों को समन भेजा है. राज्यपाल ने रविवार रात इस संबंध में एक ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है.

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था और टीटागढ़ से पार्षद मनीष शुक्ला की कायरतापूर्ण हत्या को लेकर मुख्यमंत्री और अधिकारियों को तलब किया गया है. राज्यपाल ने मुख्यमंत्री के अलावा पश्चिम बंगाल के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) हरि कृष्ण द्विवेदी और पुलिस महानिदेशक श्री वीरेंद्र को भी तलब किया है. 

वहीं, पश्चिम बंगाल में बीजेपी के केंद्रीय पर्यवेक्षक कैलाश विजयवर्गीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर एक वीडियो जारी कर जमकर निशाना साधा और मनीष शुक्ला की मौत को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा 'बीजेपी वर्कर मनीष शुक्ला की टीटागढ़ पुलिस स्टेशन (उत्तरी 24 परगना जिला) के सामने गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस मामले की जांच सीबीआई के द्वारा की जानी चाहिए.'

टीएमसी पर लगाया हत्या का आरोप

कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो ट्वीट करते हुए कहा, 'पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही. आज फिर TMC के गुंडो ने बीजेपी कार्यकर्ता मनीष शुक्ला की गोली मारकर हत्या कर दी. ये घटना बैरकपुर के टीटागढ़ पुलिस स्टेशन के बाहर घटी, पर हमेशा की तरह पुलिस आंख पर पट्टी बांधे रही.'

दरअसल, रविवार शाम पश्चिम बंगाल के टीटागढ़ में बीजेपी नेता मनीष शुक्ला की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मनीष शुक्ला उत्तर 24 परगना जिला कार्यकारिणी के सदस्य थे. घटना के वक्त वो पार्टी कार्यालय आ रहे थे. वहीं, वारदात के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने टीटागढ़ में रोड जाम कर दिया और ममता सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. बैरकपुर में सोमवार को बीजेपी ने 12 घंटे के बंद ऐलान किया है.

जानकारी के मुताबिक, टीटागढ़ थाने से कुछ दूर पहले रास्ते में अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने मनीष शुक्ला पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. बीजेपी नेता के सिर और सीने में गोलियां लगी थीं. उन्हें कोलकाता के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई. 

घटना के बाद बैरकपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त अजय ठाकुर मौके पर पहुंचे. उन्होंने कहा कि मामले की तफ्तीश शुरू हो गई है, लेकिन वारदत की वजह अभी साफ नहीं हो पाई है. बताया जा रहा है कि घटनास्थल का मुआयना करने पुलिस आयुक्त मनोज वर्मा भी पहुंचे थे.


ADVERTISEMENT