गाजियाबाद में पुलिस मुठभेड़, मेवाती गैंग के तीन बदमाश गिरफ्तार, दो के पैर में लगी गोली


उत्तर प्रदेश में पुलिस बदमाशों के खिलाफ ऐक्शन में है। एक के बाद एक ताबड़तोड़ एनकाउंटर हो रहे हैं। एनकाउंटर को लेकर यूपी पुलिस की फहीहत भी हो रही है। गाजियाबाद में गुरुवार को तड़के एक और मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में मेवाती गैंग के दो बदमाशों के पैर में गोली लगी और उन्हें पकड़ लिया गया है।

पुलिस और बदमाशों के बीच यह मुठभेड़ तड़के कविनगर थाना क्षेत्र के औद्योगिक इलाक़े में हुई। बताया जा रहा है कि पुलिस इलाके में चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक कार एचआर 29 ए 284 नंबर की नजर आई। इस कार को नंबर अधूरा था। पुलिस ने शक होने पर कार सवारों को रोका।

पुलिस पर फायरिंग करके भागे बदमाश

पुलिस को रोके जाने पर कार सवारों ने कार भगाने का प्रयास किया। पुलिस ने उनका पीछा किया तो पुलिस टीम पर कार के अंदर से फायरिंग की गई। जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। इस फायरिंग के दौरान बदमाशों को जब लगा कि वह घिर गए हैं तो उन्होंने कार छोड़कर जंगली रास्ते से भागने का प्रयास किया।

अस्पताल में भर्ती कराए गए घायल बदमाश

पुलिस की टीम ने बदमाशों का पीछा किया। इस दौरान दो बदमाशों के पैरों में गोली लगी। कार में तीन बदमाश थे, तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने बताया कि बदमाशों को प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है।

मेवाती गैंग के हैं सदस्य, इन वारदातों को दे चुके हैं अंजाम

पुलिस ने बताया कि इंदिरपुरम थाना क्षेत्र में एटीएम काटने की घटना को इन्हीं बदमाशों ने अंजाम दिया था। इसके अलावा सिहानी गेट थाना क्षेत्र राजनगर एक्टेंशन में संत ज्वैलर्स को लूटने की कोशिश में भी ये बदमाश शामिल थे। तीनों मेवाती गैंग के सदस्य हैं। पुलिस को उनके कविनगर इलाके में होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद उन्हें पकड़ने के लिए चेकिंग चल रही थी।


ADVERTISEMENT