Bihar Election 2020: रोड नहीं तो वोट नहीं पोस्टर प्रत्याशियों को बढ़ा रही परेशानी

जिले के चारों विधानसभा अंतर्गत भभुआ के वर्तमान विधायक तथा पूर्व विधायक इन दिनों चुनावी भाषण में कहते नहीं थक रहे हैं कि उनके कार्यकाल में पूरे जिले में सड़को का जाल बिछा दिया गया है। लेकिन वास्तविकता यह है कि जिले के कई गांवों में अब तक सड़क नहीं बन पाई है। इसके कारण लोगों को आए दिन परेशानी होती है।

सबसे ज्यादा लोगों को बरसात के दिनों परेशानी का सामना करना पड़ता है। बिहार विधानसभा चुनाव में भी कई गांवों में रोड नहीं तो वोट नहीं के पोस्टर लगे हुए दिखाई दिए। लेकिन, प्रशासन वहां पर जाकर वोट देने के लिए लोगों को जागरूक कर रहा है। जिस सड़क के नाम पर नेता जी वोट मांगने पहुंच रहे है। वास्तविकता है कि कई जगहों पर सड़क के लिए अब तक लोग इंतजार कर रहे है।

भगवानपुर प्रखंड के टेकरा, नावागांव, आदि कई गांवों में पहुंचने के लिए सड़क की व्यवस्था नहीं है। कई जगहों पर लोग विवश होकर अपने श्रम दान से काम करना शुरू कर दिए है। क्षेत्र में कुदरा में श्रमदान से पुल बनाने का काम भी सरकार तथा वर्तमान विधायक के मुंह पर तमाचा मारने का काम किया है। लेकिन विधायक तथा प्रशासन को लोगों के समस्या पर कोई ध्यान नहीं है। इसी क्रम में अधौरा क्षेत्र के कई गांव कालीकरण सड़क की बाट जोह रहे है। करकटगढ़ तक पहुंचने के लिए भी रास्ता का निर्माण अब तक नहीं हो पाया है।

जिले में विधानसभावार मतदाताओं की संख्या:

गुरुआ-285617


शेरघाटी-274067

इमामगंज-295605

बाराचट्टी-304207

बोधगया-314637

गया टाउन-269169

टिकारी-308598

बेलागंज-275564

अतरी-309463

वजीरगंज-312303

गया जिले की कुल आबादी-58 लाख 54 हजार 510

जिले में कुल मतदाता- 2949230


ADVERTISEMENT