18 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति बेचेगी BSNL, बॉन्ड से मिली इतनी रकम


आर्थिक संकट से जूझ रही देश की सरकारी दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल ने 18 हजार करोड़ रुपये के संपत्ति बेचने की योजना बनाई है. इसके साथ ही कंपनी ने सॉवरेन गारंटी बॉन्ड जारी कर 8,500 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जुटाई है.आपको बता दें कि सरकार ने बीएसएनएल के पुनरोद्धार के लिए 8,500 करोड़ रुपये के सॉवरेन गारंटी बॉन्ड जारी करने की मंजूरी दी थी.

क्या कहा BSNL के चेयरमैन ने?

बीएसएनएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक पी. के. पुरवार ने कहा कि कंपनी एक साल में 18,000 करोड़ रुपये की संपत्तियों की बिक्री की भी योजना बना रही है. उन्होंने उम्मीद जताई कि अभी घाटे में चल रही यह कंपनी वित्त वर्ष 2021 में परिचालन लाभ की स्थिति में आ जाएगी.  उन्होंने कहा, ‘‘हमने बॉन्ड को सुबह 10:30 बजे खोला और 12 बजे बंद कर दिया. बॉन्ड को दोगुना से अधिक आवेदन मिला. हमें 17,170 करोड़ रुपये से अधिक की बोलियां मिलीं, लेकिन हमने इसके मंजूर आकार के हिसाब से 8,500 करोड़ रुपये ही स्वीकार किए.’’ 

बीएसएनएल को इसके लिए 17,183 करोड़ रुपये की 229 बोलियां मिलीं. ये बॉन्ड 6.79 प्रतिशत सालाना की कूपन दर पर 10 साल के लिए जारी किए गए हैं. बीएसएनएल के बॉन्ड निर्गम में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बांड, राष्ट्रीय पेंशन योजना, भारतीय स्टेट बैंक और पंजाब नेशनल बैंक ने भाग लिया. पुरवार ने कहा कि एसबीआई ने इस निर्गम में सीधे 1,500 करोड़ रुपये का योगदान दिया. 

5 जी के लिए आवेदन

बीएसएनएल के चेयरमैन ने कहा कि बीएसएनएल ने 5जी परीक्षण के लिए आवेदन किया है, लेकिन कंपनी सरकार के दिशानिर्देशों के आधार पर भागीदार की समीक्षा करेगी.बीएसएनएल ने 5जी परीक्षण के लिए चीन की दूरसंचार उपकरण कंपनी जेडटीई के साथ आवेदन किया है.चीन की कंपनी बीएसएनएल को करीब 44 प्रतिशत मोबाइल नेटवर्क उपकरणों की आपूर्ति कर चुकी है.


ADVERTISEMENT