पश्चिम बंगाल में टीएमसी नेता को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में किया गया भर्ती


पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस पार्टी की पार्षद चंपा दास को कुछ बदमाशों ने देर रात गोली मार दी। उत्तरी बैरकपुर नगर पालिका के वार्ड नंबर 2 से ये पार्षद थी। गंभीर रूप से घायल पार्षद चंपा दास  को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर वहां से भाग गए। 

दो टीएमसी कार्यकर्ताओं की हत्या

वहीं, दूसरी ओर बंगाल में 24 घंटे के भीतर तृणमूल कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। पहली घटना दक्षिण 24 परगना जिले में और दूसरी बीरभूम के खैराशोल में हुई। सूत्रों ने बताया कि माईपीठ-बैकंठपुर पंचायत में सत्ता संघर्ष को लेकर एसयूसीआइ (सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया) और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच दक्षिण 24 परगना जिले के कुलतली क्षेत्र में शुक्रवार को झड़पें हुई थीं। तृणमूल कांग्रेस का आरोप है कि एसयूसीआइ के सदस्यों ने उसके कार्यकर्ता अश्विनी मन्ना के साथ मारपीट की और उसकी हत्या कर दी।

वहीं, एसयूसीआइ का आरोप है कि उसके जिला समिति के सदस्य सुधाशू जाना को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उसके घर से अगवा कर लिया था। उसका आरोप है कि उसके बाद उससे मारपीट की गई, जिससे उसकी मौत हो गई और शव को पेड़ से लटका दिया गया। उसने आरोप लगाया कि सुधाशू के घर में तोड़फोड़ भी की गई।

पुलिस ने कहा कि मन्ना की हत्या की गई, लेकिन सुधाशू के आत्महत्या करने का संदेह है। अधिकारियों ने बताया कि इन झड़पों के संबंध में 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और तीन को हिरासत में लिया गया है।उधर, बीरभूम में तृणमूल कार्यकर्ता शिशिर बाउरी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस और स्थानीय सूत्रों के मुताबिक, शिशिर अमझोला गांव का निवासी है। उसका शव शनिवार सुबह खैराशोल के रानीपाथर गांव से बरामद किया गया। उस पर इलाके में गोलीबारी का आरोप है।

ADVERTISEMENT