West Bengal: भाजपा विधायक देबेंद्र नाथ रॉय की मौत की सीबीआइ जांच के लिए पत्नी ने दायर की याचिका


पश्चिम बंगाल में भाजपा विधायक देबेंद्र नाथ रॉय की पत्नी चंदिमा रॉय ने शुक्रवार को कलकत्ता हाईकोर्ट में एक रिट पिटीशन दायर की है, जिसमें उन्होंने उनकी मौत की सीबीआइ जांच करने की मांग की है। फिलहाल, सीआइडी इस ​​मामले की जांच कर रही है। गत सोमवार को बंगाल के उत्तर दिनाजपुर में भाजपा विधायक देबेंद्रनाथ राय (59) का शव फंदे से लटकता मिला है। वह जिले के हेमताबाद विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे। पुलिस इसे आत्महत्या मान रही है, लेकिन विधायक के स्वजनों तथा पार्टी ने हत्या की आशंका जताई है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इसे संदिग्ध जघन्य हत्या बताया है।

बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी विधायक की मौत पर सवाल उठाए हैं। इसे प्रतिशोध की राजनीति बताया है। कहा कि सच्चाई सामने लाने और राजनीतिक हिंसा को खत्म करने के लिए निष्पक्ष जांच की जरूरत है। विधायक के स्वजनों व स्थानीय लोगों के मुताबिक रविवार रात एक बजे कुछ बाइक सवार उन्हें घर से बुलाकर ले गए थे और सोमवार सुबह घर से करीब एक किमी दूर रायगंज प्रखंड के बिंदौल पंचायत अंतर्गत बलिया मोड़ के समीप एक बंद दुकान के बरामदे से रस्सी से झूलता उनका शव बरामद मिला। परिजनों बताया कि फंदे की रस्सी का एक सिरा विधायक के हाथ में था। इसे देख कर स्वजनों ने हत्या की आशंका जताई है। दिवंगत विधायक एक सेवानिवृत सहकारी बैंक कर्मी थे। परिवार में उनकी पत्नी के अलावा एक गोद ली गई बेटी भी है।

जिले के पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने कहा है कि विधायक की जेब से एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें उन्होंने कुछ लोगों को खुदकुशी के लिए जिम्मेदार ठहराया है। राज्य सरकार ने इस घटना के सीआइडी जांच के आदेश दिए हैं। बता दें कि देबेंद्रनाथ पिछले साल ही माकपा से भाजपा में शामिल हुए थे। उन्होंने लोकसभा चुनाव (2019) के बाद पार्टी की सदस्यता ली थी। वहीं घटना को लेकर भाजपा ने सीबीआइ जांच की मांग की है। साथ ही मंगलवार को 12 घंटे का उत्तर बंगाल बंद बुलाया है।

ADVERTISEMENT