झारखंड: लालू यादव के लिए रिम्स में खाली कराए गए 18 कमरे, मरांडी ने सीएम को लिखी चिट्ठी


रांची के रिम्स अस्पताल में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का दबदबा दिख रहा है। लालू प्रसाद यादव इन दिनों चारा घोटाले के चार मामलों में रांची की जेल में सजा काट रहे हैं, लेकिन उनके कब्जे में रिम्स के पेइंग वार्ड के 18 कमरे हैं। बताया जा रहा है कि लालू को कोराना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए यह वीवीआइपी व्यवस्था की गई है। गौरतलब है कि झारखंड में राजद महागठबंधन सरकार में शामिल है।

वहीं दूसरी तरफ इसी रिम्स में बेड नहीं होने का हवाला देकर कोरोना संक्रमित मरीजों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट करवाया जा रहा है। लालू प्रसाद लंबे समय से रिम्स में इलाजरत हैं। उन्हें कई तरह की गंभीर बीमारियां हैं, जिसका यहां इलाज चल रहा है। 

इन दिनों राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और अस्पतालों में बिस्तर नहीं होने से मरीजों का फर्श पर बिस्तर लगाकर इलाज किया जा रहा है। ऐसे में सियासी दल यह सवाल उठा रहे हैं कि कोरोना महामारी के इस मुश्किल दौर में चारा घोटाले के चार मामलों के सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो यदि सत्तारुढ़ गठबंधन में शामिल दल, राजद के प्रमुख नहीं होते, तो एक साधारण कैदी की तरह रिम्स में उनका भी इलाज चल रहा होता। लेकिन, हेमंत सरकार की कृपा से 18 कमरे बेवजह बंद रखे गए हैं। भाजपा विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने इस मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को चिट्ठी भी लिखी है।

मरांडी ने चिट्ठी लिखने के बाद उस चिट्ठी के साथ मुख्यमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए ट्वीट भी किया, 'रिम्स में कमरों को बेवजह बंद करके रखे जाने की सूचना प्राप्त हो रही है। कोरोना जैसे नाजुक मौके पर इस प्रकार की मनमानी और संवेदनहीनता समझ से परे है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी से हमने इस पर तत्काल संज्ञान लेने का आग्रह किया है।'

रिम्स में न्यायिक हिरासत में लालू यादव की कोरोना वायरस की जांच की गई
वहीं रिम्स में भर्ती लालू प्रसाद यादव का शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण जांच के लिए नमूना लिया गया जिसकी रिपोर्ट रविवार तक आने की संभावना है। रिम्स में भर्ती लालू प्रसाद यादव के इलाज का प्रभार संभाल रहे चिकित्सक डॉ. उमेश प्रसाद ने कहा कि एहतियातन लालू प्रसाद यादव का भी कोरोना वायरस की जांच करने का निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा कि फिलहाल उनमें किसी तरह के कोविड-19 के लक्षण नहीं पाए गए हैं।

ADVERTISEMENT