राजस्थान: विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला ACB पहुंचा, FIR में भंवरलाल शर्मा नामजद


राजस्थान में सियासी उठापटक थमने का नाम नहीं ले रही है. हर दिन नए-नए प्रकरण सामने आ रहे हैं. इसमें एक और नई कड़ी जुड़ गई है. अब विधायक खरीद-फरोख्त ऑडियो टेप मामले को लेकर एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) में भी एफआईआर दर्ज कराई गई है.

विधानसभा में मुख्य सचेतक महेश जोशी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कराई गई है. केस दर्ज होने के बाद इस मामले में एसीबी मुख्यालय में महेश जोशी के बयान दर्ज कराए गए हैं. इस एफआईआर में विधायक भंवरलाल शर्मा को नामजद बनाया गया है क्योंकि बयानों में महेश जोशी ने कहा कि विधायक भंवरलाल शर्मा की आवाज को वे पहचानते हैं. एसीबी मुख्यालय में पीसी एक्ट के तहत यह मामला दर्ज किया गया है.

बता दें, राजस्थान की सियासत में टेप कांड को लेकर आरोप-प्रत्यारोप तेज हो गए हैं. कांग्रेस ने दो ऑडियो टेप जारी कर आरोप लगाए हैं कि इसमेें सचिन पायलट के करीबी विधायक भंवरलाल शर्मा से बातचीत है. आरोप में यह भी कहा गया है कि बीजेपी सचिन पायलट खेमे के विधायकों के साथ मिलकर साजिश रच रही है. इसे देखते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई गई है.

इसी मामले में राजस्थान का स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) जगह-जगह कार्रवाई भी कर रहा है. एसओजी की टीम शुक्रवार शाम मानसेर पहुंची थी, जहां एक होटल में कांग्रेस के कुछ बागी विधायक ठहरे हुए हैं. हालांकि एसओजी टीम को होटल में दाखिला नहीं मिला क्योंकि उसे अंदर जाने से रोक दिया गया. करीब डेढ़ घंटे के इंतजार के बाद टीम को होटल में एंट्री मिल सकी. होटल में भंवरलाल शर्मा एसओजी को नहीं मिले जिसके बाद टीम खाली हाथ लौट गई.

ADVERTISEMENT