नेपोटिज्म नहीं, गैंगिज्म सुशांत की मौत के लिए जिम्मेदार: शेखर सुमन


बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की खुदकुशी पर अभिनेता शेखर सुमन ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के पीछे नेपोटिज्म नहीं, बल्कि गैंगिज्म जिम्मेदार है.

शेखर सुमन ने राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव के साथ मंगलवार को पटना में मुलाकात की. दोनों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मुद्दे को उठाया कि लोगों को शुरुआती दौर में लग रहा है कि यह आत्महत्या है लेकिन तथ्य और साक्ष्य बीते दिनों सामने आए हैं, जिसमें यह हो सकता है कि मौत के पीछे कोई साजिश हो.

शेखर सुमन ने कहा, 'कई तथ्य और सबूत आए हैं, जिनसे पता चलता है कि जो नजर आ रहा है, उससे ज्यादा ही कुछ है. यह एक साजिश हो सकती है कि सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या करने की कगार पर लाया गया. इस मामले की पूरी जांच की जानी चाहिए.'

बॉलीवुड पर कटाक्ष करते हुए, टेलीविजन स्टार शेखर सुमन ने कहा कि फिल्म उद्योग में सिंडिकेट और माफिया चल रहे हैं, जो किसी एक्टर का भविष्य तय करते हैं. उन्होंने कहा कि वह बॉलीवुड की उन हस्तियों के नाम जानते हैं जो इस सिंडिकेट का हिस्सा थे, लेकिन किसी का नाम नहीं लेंगे क्योंकि उनके पास ठोस सबूत नहीं हैं.

शेखर सुमन ने सवाल उठाने के लहजे में कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में में गैंगिज्म और गुटबाजी चलती है. यह कैसे संभव है कि सुशांत सिंह जैसे आदमी ने सुसाइड नोट नहीं लिखा? सुशांत ने पिछले एक महीने में 50 सिम कार्ड भी बदले. वह किससे बच रहा था? क्या कोई प्रोफेशनल प्रतिद्वंद्वी था?

शेखर सुमन ने सुशांत सिंह राजपूत के परिवार से मुलाकात में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अनिच्छा पर भी सवाल उठाए.

उन्होंने सीएम नीतीश कुमार को घेरते हुए कहा कि नीतीश कुमार सुशांत के परिवार से मिलना चाहिए थे. जब मैंने उनसे मिलने की कोशिश की तो मुझे बताया गया कि वह कोविड -19 के कारण किसी से नहीं मिल रहे हैं. अगर तेजस्वी मुझसे मिल सकते हैं तो नीतीश कुमार से क्यों नहीं?

ADVERTISEMENT