West Bengal : बंगाल में माध्यमिक परीक्षा के नतीजे घोषित, 86.34 फीसद विद्यार्थी पास


कोरोना संकट के बीच बंगाल में 2020 की माध्यमिक परीक्षा के नतीजे बुधवार को घोषित कर दिया गया। इस साल 86.34 फीसद विद्यार्थी पास हुए हैं जो पिछले साल की तुलना में कुछ अधिक है। पिछले साल 86.07 फीसद विद्यार्थी पास हुए थे।

पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा परिषद के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने परीक्षा परिणाम की घोषणा करते हुए कहा कि इस बार कुल 843305 विद्यार्थी सफल हुए हैं। इस वर्ष 10.15 लाख विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। इस वर्ष भी कोलकाता की तुलना में जिलों ने बाजी मारी है।

पूर्व मेदिनीपुर 96.59 फीसद रिजल्ट के साथ पूरे राज्य में पहले स्थान पर है। इसके बाद पश्चिम मेदिनीपुर 92.16 फीसद के साथ दूसरे स्थान पर एवं 91.07 फीसद परिणाम के साथ कोलकाता तीसरे स्थान पर है। मेघा तालिका में इस वर्ष पूर्व वर्धमान जिले के मेमारी विद्यासागर मेमोरियल स्कूल के अरित्र पाल ने 694 अंकों (99.14 फीसद) के साथ पूरे राज्य में टॉप किया है। टॉप 10 में इस बार 84 विद्यार्थी हैं।

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि आगामी 22 जुलाई को मार्कशीट एवं सर्टिफिकेट का वितरण कैंप ऑफिस ओं एवं स्कूलों के माध्यम से किया जाएगा। बता दें कि इस बार 18 फरवरी से 27 फरवरी के बीच माध्यमिक परीक्षा आयोजित हुई थी। 

पश्चिम बंगाल बोर्ड ने अपने शेड्यूल के मुताबिक 10वीं का परिणाम जारी कर दिया है। बोर्ड ने ठीक 10 बजे रिजल्ट की घोषणा आधिकारिक वेबसाइट wbbse.nic.in पर किया है। ऐसे में जो भी परीक्षार्थी 10वीं की परीक्षा में हिस्सा लिया था, वे अपना रिजल्ट देख सकते हैं। इस बार 10.15 लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों ने एग्जाम में शामिल हुए थे। अब यह छात्र-छात्राएं अपना परिणाम देख पाएंगे। इस बार कुल 86.34% परीक्षार्थी सफल हुए हैं। इसके तहत बंगाल में कुल 96.59 स्टूडेंट्स सफल हुए हैं। वहीं कोलकाता में पास प्रतिशत 91.07 है।  इसके अलावा पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन द्वारा डब्ल्यूबीबीएसई 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा 17 जुलाई को की जाएगी। 

ADVERTISEMENT