US: ह्यूस्टन पुलिस चीफ का ट्रंप को जवाब- कुछ ठोस बोलने को नहीं तो अपना मुंह बंद रखें


अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हालात बेकाबू होते जा रहे हैं. वाशिंगटन, लॉस एंजेलिस समेत देश के कई बड़े शहरों में प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे हैं और विरोध प्रदर्शन जारी है. इस बीच ह्यूस्टन पुलिस के चीफ का एक बयान चर्चा बटोर रहा है, जहां उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से सीधे कहा है कि अगर उनके पास कुछ सही बोलने के लिए नहीं है, तो चुप ही रहें.

अमेरिकी न्यूज़ चैनल CNN से बात करते हुए ह्यूस्टन पुलिस के प्रमुख आर्ट एवेकेडो ने देश में मौजूदा हालात पर बात की. इस दौरान उन्होंने साफ कहा, ‘..मैं अमेरिका के राष्ट्रपति को पूरे देश की पुलिस की तरफ से कह देना चाहता हूं कि अगर आपके पास कुछ ठोस कहने को नहीं है, तो अपना मुंह बंद रखें’.

एवेकेडो ने कहा कि आपके (डोनाल्ड ट्रंप) की वजह से आज देश के 20-21 साल के बच्चों की जिंदगी रिस्क पर आ गई है. हम नहीं चाहते हैं कि लोग सड़कों पर आएं और इस तरह की हरकत करें. हम लोगों को ऐसा इंप्रेशन नहीं देना चाहते हैं कि हम उनपर कोई दया कर रहे हैं, क्योंकि उनका यहां पर हक है.

ह्यूस्टन पुलिस के चीफ ने कहा कि इस वक्त देश में एक नेतृत्व की जरूरत है, राष्ट्रपति की ओर से उम्मीद आनी चाहिए कि हर कोई एक साथ है. चाहे हम उन्हें वोट करें या ना करें, लेकिन वो देश के राष्ट्रपति हैं.

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से लगातार दिए जा रहे बयान और ट्वीट पर सवाल खड़े हो रहे हैं. अमेरिका में कई मीडिया हाउस, विपक्षी नेताओं ने डोनाल्ड ट्रंप के बयानों को भड़काऊ बताया है.

अमेरिका में जारी हिंसा के बीच बीते दिन डोनाल्ड ट्रंप ने बयान दिया है कि अगर प्रदर्शनकारी शांत नहीं बैठे, तो वो सड़कों पर सेना उतारने का आदेश दे देंगे. दूसरी ओर उन्होंने सभी राज्यों के गवर्नर से कहा है कि अपने राज्य में हिंसा रोकें और प्रदर्शनकारियों को लंबे वक्त तक जेल में डाल दें.

बता दें कि जॉर्ज फ्लॉयड की मौत एक पुलिसकर्मी की कस्टडी में हुई थी, जहां उसने घुटने से जॉर्ज के गले को दबाया था. उसी के बाद से एक बार फिर अमेरिका में श्वेत बनाम अश्वेत की लड़ाई शुरू हो गई है.


ADVERTISEMENT