लॉकडाउन का उड़ा मजाक, लोग सड़कों पर उतर आये


युवा शक्ति संवाददाता
---------------
हावड़ा : इसे मजाक नहीं तो और क्या कहेगें, लॉकडाउन होने के बावजूद लोग सड़कों पर इस तरह घूम रहे थे मानों वे रविवार को किसी छुट्टी पर आये हो। सुबह- सुबह लोग सड़कों पर उतर आये। कोई सामान खरीदने तो कोई घूमने के लिए सड़क पर निकल आये। मध्य हावड़ा के जीटी रोड तो ऐसा लग रहा था जैसे यहां कोई मेला लगा हो।

फजीर बाजार, संध्याबाजार, नेताजी सुभाष रोड व शिवपुर सहित कई क्षेत्रों में लॉकडाउन का मजाक उड़ता दिखा। राशन की दुकान हो या दवा की दुकान कहीं भी कोरोना को लेकर सजगता नहीं दिखाई दी। यहां तक कि सब्जी खरीदनेवाले भी एक दूसरे से सट कर सब्जी खरीद रहे थे। 

हालांकि पुलिस की ओर से दुकानों को बंद कराने की माइकिंग की जा रही थी लेकिन पुलिस की माइकिंग से किसी पर कोई फर्क पड़ता नहीं दिख रहा था। केन्द्र सरकार हावड़ा को रेड जोन घोषित कर चुका है लेकिन लोगों पर इसका कोई फर्क पड़ता नजर नहीं आ रहा। क्या दूधवाला, क्या सब्जीवाला या क्या फल विक्रेता सभी लॉकडाउन का अनदेखी करते नजर आए। 

रास्ते से पुलिस रही गायब :
पिछले कई दिनों से रास्ते में पुलिसकर्मियों के नहीं रहने से लोग इसका भरपूर फायदा उठा रहे हैं। हालांकि रास्ते में कुछ ट्रैफिक पुलिसकर्मी जरूर नजर आ रहे थे।

25 मार्च से शुरू हुए लॉकडाउन के 40 पूरे हो चुके हैं। केन्द्र सरकार ने लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ा दिया। अगर ऐसे ही लॉकडाउन का मजाक उड़ता रहा तो हावड़ा कभी भी ग्रीन जोन नहीं हो पायेगा और देखते ही देखते हावड़ा शहर मरघट में बदल जायेगा।