लॉकडाउन में शराब की दुकान खोलने के फैसले पर आया जावेद अख्तर का रिएक्शन, बोले- इसके विनाशकारी परिणाम...


नई दिल्ली: कोरोनावायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग के चलते भारत में अब 17 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा. हालांकि इस दौरान कई तरह की रियायतें दी गई हैं. लेकिन ये सभी छूटें इस आधार पर तय होंगी कि आपका इलाका या जिला किस जोन में आता है. वहीं, लॉकडाउन (Lockdown) के तीसरे चरण में ग्रीन जोन में शामिल जिलों में शराब और पान का दुकानें खुल जाएंगी. केंद्र सरकार के इस फैसले पर मशहूर लेखर जावेद अख्तर (Javed Akhtar) का रिएक्शन आया है. जावेद अख्तर (Javed Akhtar Twitter) ने हाल ही में एक ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.
 

इस ट्वीट में जावेद अख्तर (Javed Akhtar)  ने सरकार के इस फैसले को गलत बताया है. उन्होंने लिखा, "लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान शराब की दुकानें खोलने से विनाशकारी परिणाम सामने आएंगे. किसी भी मामले में सभी सर्वेक्षणों के अनुसार आजकल घरेलू हिंसा काफी हद तक बढ़ गई है. वहीं, शराब बच्चों और औरतों के लिए इन दिनों को और भी ज्यादा खतरनाक बना देगी. "

जावेद अख्तर (Javed Akhtar) के इस ट्वीट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. बता दें, ग्रीन जोन में खुलने वाली इन शराब की दुकानों पर खरीददारों को छह फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी. दुकान पर एक समय में पांच से अधिक लोग खड़े नहीं हो सकेंगे. लॉकडाउन के तीसरे चरण में कुछ पाबंदियां हटाई जा रही हैं, जरूरी और गैर जरूरी के किसी भी भेद के बिना, शहरी परिसरों में सभी स्टैंडअलोन दुकानें, पड़ोस की दुकानें और आवासीय परिसरों की दुकानों को खुले रखने की अनुमति होगी. निजी कार्यालय आवश्यकता के अनुसार 33 प्रतिशत तक की क्षमता के साथ काम कर सकते हैं, बाकी लोग घर से काम करते रहेंगे.