कोरोना: बीजेपी सांसद का विवादित बयान- जमातियों से आतंकियों जैसा बर्ताव हो


बिहार के मुजफ्फरपुर से बीजेपी सांसद अजय निषाद ने तबलीगी जमात के सदस्यों को लेकर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि तबलीगी जमात के सदस्यों ने पूरे देश में कोरोना फैलाया है, इसी वजह से आज स्थिति गंभीर हो गई है. कोरोनो वायरस फैलाने वाले सभी सदस्यों से 'आतंकवादियों' की तरह निपटा जाना चाहिए.

निषाद ने मांग की है कि देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना फैलाने के लिए जिम्मेदार जमातियों के साथ सरकार को आतंकियों जैसा व्यवहार करना चाहिए. इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. सांसद का यह बयान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उस नसीहत का भी विरोध करता है जिसमें कहा गया था कि कोरोना पर संभलकर बोलें और धर्म के आधार पर कोई बयान न दें. नड्डा के अलावा पीएम नरेंद्र मोदी भी खुद ये कह चुके हैं कि कोरोना का कोई धर्म या जाति नहीं है.

इन नसीहतों को ताक पर रखते हुये बीेजेपी सांसद ने जमातियों को न सिर्फ जिम्मेदार ठहराया बल्कि उनके साथ कैसा सलूक किया जाये उसमें भी सीमा लांघ गये. इसके अलावा सांसद ने ये भी कहा कि मदरसे में बच्चों को शुरू से ही कट्टरपंथी और गलत शिक्षा दी जाती है. उनकी शिक्षा पंचर तक सीमित है. मदरसा सिर्फ यह सिखाता है कि पंक्चर की मरम्मत कैसे की जाती है, इसलिए इन लोगों ने महामारी को और विकराल बना दिया है.

दरअसल, बीजेपी सांसद का बयान ऐसे समय में आया है जब मुजफ्फरपुर में कोरोना के मामले बढ़ने शुरू हुए हैं. बीजेपी सांसद ने कहा कि मुजफ्फरपुर ग्रीन जोन में था, लेकिन यहां भी बाहरी लोगों के आने से कोरोना संक्रमित मिलने लगे हैं.

बता दें कि बिहार में कोरोना मरीजों की 700 के पार पहुंच चुकी है. सोमवार को राज्य में 50 से अधिक मामले सामने आए थे, जिसमें तीन मरीज मुजफ्फरपुर के थे.


ADVERTISEMENT