उत्तर प्रदेश: लॉकडाउन में दोस्तों के साथ साइकिल से निकला शादी करने, हो गया क्वारनटीन


कोरोना वायरस की महामारी से पूरी दुनिया लड़ रही है. इस जानलेवा वायरस के चलते भारत में लॉकडाउन है. इसकी वजह से लोगों का कामकाज ठप हो गया है और लोग घरों में कैद हो गए हैं. लेकिन इस बंदी में एक युवक ने शादी करने के लिए एक हजार किलोमीटर का लंबा सफर साइकिल से ही पूरा करने की ठानी. ये अलग बात है कि अपने गंतव्य तक पहुंचने से पहले ही युवक को पकड़ कर क्वारनटीन कर दिया गया.

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर के क्वारनटीन सेंटर में पहुंच चुके सोनू कुमार चौहान की शादी भी नहीं हो सकी. सोनू कुमार चौहान महराजगंज जिले के पिपरा रसूलपुर गांव का रहने वाला है. वह पंजाब के लुधियाना में टाइल्स का काम करता है.

लॉकडाउन के बाद जब काम बंद हो गया तो सोनू कुमार चौहान को अपने घर की चिंता सताने लगी. सोनू कुमार की 15 अप्रैल को शादी भी तय थी. उसी के गांव से लगभग 25 किलोमीटर की दूरी पर शादी होनी थी.

सोनू अपने तीन अन्य साथियों के साथ साइकिल से ही लुधियाना से चल पड़ा. छह दिन में लगभग 850 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए सोनू अपने साथियों के साथ बलरामपुर पहुंचा, जहां पुलिस ने उसे और उसके साथियों को रोक लिया. पुलिस ने उन्हें आगे जाने की इजाजत नहीं दी.

सोनू को उसके चार साथियों के साथ बलरामपुर में क्वारनटीन कर लिया गया है. इस समय सोनू बलरामपुर के क्वारनटीन सेंटर में है. सोनू ने शादी का हवाला देते हुए घर जाने की इजाजत मांगी लेकिन पुलिस-प्रशासन ने उसकी एक न सुनी.

सोनू का कहना है कि यदि हम घर पहुंच गए होते तो बिना किसी तामझाम के शादी की संभावना बन सकती थी. लेकिन अब तो शादी की तारीख भी निकल चुकी है. हालांकि सोनू का मानना है कि जिंदा रहना जरूरी है. शादी तो फिर भी हो जाएगी.