लालू को लेकर चिंता में तेजस्वी, बोले- जिसके पास परिवार, वही समझ सकता है दर्द


बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की सेहत को लेकर परिवार फिक्रमंद है. पूर्व डिप्टी सीएम और बेटे तेजस्वी यादव ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि लालू जी का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कोरोना संक्रमित शख्स के संपर्क में आने की खबर तनावपूर्ण और चिंताजनक है.

तेजस्वी यादव ने कहा, 'राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मेरे पिताजी लालू प्रसाद जी का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने और उन्हें क्वारनटीन करने संबंधित खबरों के बारे में जानना वास्तव में तनावपूर्ण और चिंताजनक है.'

तेजस्वी यादव ने कहा, 'इस तथ्य को सोचकर चिंतित हूं कि वो 72 वर्ष की उम्र में किडनी, हॉर्ट, शुगर जैसी अनेक क्रॉनिक बीमारियों से जूझते हुए कोरोना जैसी संक्रमित महामारी के लिए सबसे अधिक असुरक्षित हैं, इसलिए उन्हें अत्यधिक सुरक्षा और सावधानी चाहिए. जिस किसी के पास परिवार होता है, वही ऐसे दर्द और तनाव को समझ सकता है.'

गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव का इलाज रांची के रिम्स में चल रहा है. लालू का इलाज डॉक्टर उमेश प्रसाद कर रहे हैं. उनके वार्ड भर्ती एक मरीज में सोमवार को कोराना संक्रमण की पुष्टि हुई. इसके बाद डॉक्टर उमेश प्रसाद को क्वारनटीन किए जाने की खबर है. इस खबर के आने के बाद लालू फैमिली में चिंता बढ़ गई है.

इस बीच चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव इस समय रांची के रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती हैं. करोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए एहतियात के तौर पर उन्होंने खुद को पूरी तरह से क्वारनटीन कर लिया जिससे वह कोविड-19 के संक्रमण से पूरी तरह सुरक्षित रह सकें.