नागरिकता संशोधन विधेयक पर US का आग्रह, अल्पसंख्यकों के हक की रक्षा करेगा भारत


नागरिकता संशोधन विधेयक पर अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है. इसलिए अमेरिका यह उम्‍मीद करता है कि वह अपने देश में लोकतांत्रिक मूल्‍यों और अल्‍प संख्‍यकों के अधिकारों की रक्षा करेगा.

अमेरिका ने यह प्रतिक्रिया ऐसे समय आई है, जब प्रतिनिधि सभा में कश्‍मीर मामले में प्रस्‍ताव पेश किया गया है. अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने गुरुवार को कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक के संबंध में हम घटनाक्रमों का बारीकी से पालन कर रहे हैं.

धार्मिक स्वतंत्रता और कानून के तहत समान व्यवहार हमारे दो लोकतंत्रों के मूल सिद्धांत हैं. प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिका भारत से भारत के संविधान और लोकतांत्रिक मूल्यों को ध्यान में रखते हुए अपने धार्मिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करने का आग्रह करता है.