Protest: कोलकाता में भाजपाइयों पर लाठीचार्ज, कई घायल; 35 गिरफ्तार


Protest of BJP: गंदगी, डेंगू, भ्रष्टाचार व अवैध पार्किंग मुक्त कोलकाता की मांग सहित अन्य कई मुद्दों पर भाजपा ने 'कोलकाता कार्पोरेशन चलो' अभियान चलाया. इसके तहत दोपहर करीब 1 बजे मुरलीधर सेन लेन स्थित प्रदेश मुख्यालय से प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के नेतृत्व में विशाल जुलूस निकाला गया. जुलूस सेंट्रल एवेन्यू होते हुए चांदनी चौक इलाके में पहुंचा. यहां भाजपा कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का पुतला फूंका. मौके पर पुलिस ने भाजपाइयों को रोकने के लिए बैरिकेड कर रखा था। बड़ी संख्या में पुलिस पहले से तैनात थी.

जुलूस को एसएन बनर्जी रोड स्थित कोलकाता नगर निगम मुख्यालय पहुंचना था, लेकिन पुलिस ने इसके पहले ही उसे रोक दिया. ऐसे में बैरिकेड को तोड़ने की कोशिश में भाजपा कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ धक्का-मुक्की हुई. इसी बीच. जुलूस की तरफ से पुलिस पर पानी की बोतलें फेंकी गई. स्थिति अनियंत्रित होते देख पुलिस ने भाजपाइयों को रोकने के लिए लाठीचार्ज किया. इस दौरान उन पर आंसू गैस के गोले चलाने के साथ ही पानी का तेज बौछार भी किया गया. चांदनी चौक इलाके में हुए लाठी चार्ज में कई नेता व कार्यकर्ता घायल हो गए.

प्रदेश भाजपा के अनुसार. मौके से प्रदेश भाजयुमो अध्यक्ष देवजीत सरकार व प्रदेश भाजपा महासचिव राजू बनर्जी के साथ ही 35 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया. हिरासत में लिए गए भाजपाइयों में पार्टी नेत्री रिमझिम मित्रा सहित 12 महिला कार्यकर्ता भी शामिल थीं. पुलिस के लाठीचार्ज में प्रदेश भाजयुमो अध्यक्ष देवजीत सरकार सहित 10 कार्यकर्ताओं को चोट आई है. उन्हें मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया है. भाजपा का आरोप है कि शांतिपूर्ण तरीके से 'कोलकाता कार्पोरेशन चलो' अभियान चल रहा था, लेकिन पुलिस ने क्रूरता से बल प्रयोग किया. कार्यकर्ताओं को खदेड़ कर पीटा गया।शहर की गंदगी, तारों के मकड़जाल, अवैध पार्किंग डेंगू इत्यादि समस्याओं के विरोध में इस दिन विरोध जुलूस निकाला गया. इधर-उधर लटकते तार, गंदगी, जल कर, कटमनी व डेंगू मुक्त कोलकाता की मांग पर यह अभियान चला गया. इसके साथ ही भाजपा ने शहर में पर्याप्त संख्या में सब-वे निर्मित करने एवं वाई-फाई सुविधा की मांग की. भाजयुमो के बैनर तले यह विरोध-प्रदर्शन किया गया। इसमें विभिन्न क्षेत्रों के युवा कार्यकर्ता शामिल हुए.

पुलिस का बर्ताव अमानवीय : भाजपा

भाजपा नेता मुकुल राय ने भाजयुमो कार्यकताओं पर लाठीचार्ज को शर्मनाक बताया है. उन्होंने पुलिस पर सत्तारूढ़ दल के कार्यकर्ताओं की तरह बर्ताव करने का आरोप लगाया है. साथ ही उन्होंने कहा कि जब पुलिसकर्मी तृणमूल कार्यकर्ताओं की तरह बर्ताव करते हैं तो वे तृणमूल का झंडा क्यों नहीं उठा लेते हैं?

विरोध जुलूस में शामिल भाजपा नेत्री रिमझिम मित्रा ने पुरुष पुलिस पर महिला कार्यकर्ताओं के साथ बदसलूकी करने का अरोप लगाया है.

उन्होंने कहा कि पार्टी के पास इस कार्यक्रम की पहले से अनुमति थी। शांतिपूर्ण तरीके से विरोध-प्रदर्शन चल रहा था. इसी बीच पुरुष पुलिस कर्मियों ने पहंुच कर महिलाओं के साथ बदसलूकी की. भाजपा ने पुलिस के इस लाठीचार्ज को अमानवीय करार दिया है. इसके लिए पुलिस पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाया है.