About Me

header ads

अयोध्या में दीपोत्सव पर प्रज्वलित होंगे 5.51 लाख दीप, गिनीज बुक में दर्ज होगा रिकार्ड


अयोध्या में दीपोत्सव के अवसर पर शनिवार को आयोजित कार्यक्रमों में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, फिजी गणराज्य की उपसभापति एवं सांसद वीना भटनागर, केंद्र और राज्य सरकार के मंत्री तथा अन्य प्रमुख लोग मौजूद रहेंगे. शनिवार की शाम सात बजे से साढ़े सात बजे तक सभी घाटों और संपूर्ण अयोध्या में पांच लाख 51 हजार दीपों का प्रज्वलन होगा. इस मौके पर 226 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास होगा.

गुरुवार को राज्य सरकार के प्रवक्ता ने अयोध्या दीपोत्सव पर होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी. शनिवार को सुबह दस बजे से दो बजे तक भगवान श्रीराम के लीला चरित्र से जुड़ी विभिन्न झांकियों समेत भव्य शोभा यात्रा निकलेगी. यह यात्रा साकेत महाविद्यालय से शुरू होकर रामकथा पार्क में समाप्त होगी। इसमें कई देशों के कलाकार भाग लेंगे. मुख्यमंत्री पौने चार बजे से चार बजे तक शोभा यात्रा का अवलोकन करेंगे. इसके बाद श्री राम-सीता का राम कथा पार्क में हेलीकॉप्टर से प्रतीकात्मक अवतरण एवं भरत मिलाप का कार्यक्रम संपन्न होगा. सवा चार बजे से चार बजकर 40 मिनट तक राम कथा पार्क आगमन पर श्रीराम-जानकी का पूजन-वंदन, आरती और श्रीराम का प्रतीकात्मक राज्याभिषेक होगा.

इसके बाद शाम छह बजे तक परियोजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण और अतिथियों का संबोधन होगा. इसके बाद साढ़े छह से सात बजे तक नया घाट पर सरयू की आरती और पूजन किया जाएगा. राम की पैड़ी पर चार लाख दीपों का प्रज्वलन कर गिनीज बुक में रिकार्ड दर्ज कराया जाएगा. रात्रि आठ बजे राम की पैड़ी पर राम कथा का प्रदर्शन, सवा आठ बजे तक सरयू पुल से आतिशबाजी और फिर साढ़े आठ बजे से रात्रि दस बजे तक भारत, नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया एवं फिलीपींस की रामलीला का मंचन किया जाएगा. दीपोत्सव के तहत शुक्रवार को शाम छह बजे से गुप्तार घाट पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन एवं रामलीला का मंचन होगा.