जय श्रीराम बोलने पर बारुईपुर में भाजपा कार्यकर्ता को गोली मारी


West Bengal Violence दक्षिण 24 परगना जिले के बारुईपुर थानांतर्गत जयतला में जय श्रीराम बोलने पर एक भाजपा कर्मी को गोली मार दिए जाने की घटना प्रकाश में आई है. उसका नाम राम प्रसाद मंडल है. 38 वर्षीय राम प्रसाद के दाहिने पैर में गोली लगी है. उसे कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. भाजपा ने हमले के पीछे सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस का हाथ होने का आरोप लगाया है.

हालांकि तृणमूल ने भाजपा के आरोपों को झूठा और पार्टी को बदनाम करने की राजनीतिक करने का आरोप लगाया है. इस बाबत पीडि़त पक्ष की ओर से थाने में सत्येंद्र सरदार, सन्यासी नस्कर, मनोरंजन सरदार, तपन नस्कर और पवित्र नस्कर के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है. हालांकि खबर लिखे जाने तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी की कोई सूचना नहीं है.

जानकारी के मुताबिक जयतला निवासी राम प्रसाद गुरुवार अपराह्न 3.30 बजे इलाके में ही स्थित तालाब में नहाने पहुंचा था. वहीं कुछ लोग उस पर हमला कर दिये. राम प्रसाद को लक्ष्य कर गोली मारी, जो उसके दाहिने पैर में लगी. राम प्रसाद वहीं जमीन पर गिर कर छटपटाने लगा.

उधर, गोली की आवाज सुन कर स्थानीय लोग मौके पर पहुंच गए. घायल को उठा कर पहले स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर कोलकाता रेफर कर दिया गया. भाजपा के स्थानीय नेताओं की मानें तो राम प्रसाद पार्टी का सक्रिय सदस्य है.

वह अक्सर जय श्रीराम बोलता रहता है। इसी से नाराज होकर तृणमूल समर्थित युवकों ने हमला किया. घटना के बाद से इलाके में तनाव का माहौल है. गौरतलब हो कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में जय श्रीराम बोलने पर भाजपा नेताओं-कार्यकर्ताओं और समर्थकों पर हमले की घटना होती रही है. भाजपा हर बार तृणमूल पर आरोप लगाती रही है और तृणमूल नेता हर बार इन्कार करता रहा है.