शारदा केस: राजीव कुमार की तलाश तेज, जारी हो सकता है गैर जमानती वारंट


शारदा चिटफंड केस में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने कोलकाता के पूर्व कमिश्नर और वर्तमान एडीजी (सीआईडी) राजीव कुमार की तलाश तेज कर दी है. सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी वीरेंद्र कुमार से राजीव कुमार के बारे में जानकारी मांगी है. राजीव कुमार की तलाश के लिए एक विशेष टीम भी बनाई गई है.

शारदा पोंजी स्कीम घोटाले में राजीव कुमार को सीबीआई ने नोटिस भेजा है. नोटिस के बावजूद राजीव कुमार सीबीआई के समक्ष हाजिर नहीं हुए. बीते शुक्रवार को कोलकाता हाईकोर्ट ने कुमार की गिरफ्तारी पर से रोक हटा दी थी. 

सूत्रों ने कहा कि पश्चिम बंगाल के डीजीपी ने सोमवार को एक पत्र में सीबीआई को बताया था कि नोटिस राजीव कुमार के आधिकारिक आवास पर भेजी गई थी और उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार किया गया. पत्र में डीजीपी ने कहा था कि कुमार ने अपने वकील के माध्यम से उन्हें सूचित किया था कि वह 25 सितंबर तक छुट्टी पर हैं.

इससे पहले बुधवार को सीबीआई के एक दर्जन अधिकारी कोलकाता पहुंच गए और जांच में शामिल हुए. राजीव कुमार के खिलाफ यह बड़ी कार्रवाई ऐसे वक्त में हो रही है जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने वाली हैं.

सूत्रों के मुताबिक, राजीव कुमार मामले में बंगाल प्रशासन के असहयोग से सीबीआई काफी निराश है क्योंकि कई दिनों के बाद भी राजीव कुमार जांच में शामिल नहीं हो रहे. उन्हें अब तक कई बार समन भेजा जा चुका है लेकिन वे जांच एजेंसी के सामने अभी तक शामिल नहीं हुए हैं.

Subscribe Yuva Shakti Youtube channel for more updates: