About Me

header ads

समस्तीपुर के छात्र ने खुद रची अपहरण की साजिश, पर्दाफाश


समस्तीपुर के एक निजी स्कूल में नौंवी क्लास के एक छात्र ने खुद अपने ही अपहरण की साजिश रची और 10 लाख रुपये फिरौती की मांग की क्योंकि वो अपने पिता को परेशान करना चाहता था. छात्र के पिता ने एक लड़की से दोस्ती करने को लेकर उसे काफी डांटा था और कहा था कि अगर उसकी गलती निकली तो उसे वापस घर लेकर चले आएंगे. इसी बात से नाराज होकर छात्र ने अपने दोस्त के साथ मिलकर अपने अपरहण की साजिश रची.

होली मिशन स्कूल का यह छात्र समस्तीपुर शहर में ही एक किराए के मकान में रहकर पढ़ाई कर रहा था. 2 सितंबर की शाम को वह अपने रूम से अचानक गायब हो गया. मकान मालिक ने इसकी जानकारी उसके पिता को दी फिर पिता ने पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस छानबीन में लगी ही थी कि उसी रात को छात्र के मोबाइल से किसी दूसरे शख्स ने छात्र के पिता मिथिलेश राय के मोबाइल पर फोन कर दस लाख की फिरौती की मांग की. इसके बाद पुलिस ने मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लेकर जांच शुरू की. पहले लोकेशन बेगूसराय का मिला. 4 तारीख को उसी मोबाइल से छात्र के पिता को एसएमएस से धमकी दी गई कि बताए गए जगह पर अगर जल्द पैसा नही पहुंचाया गया तो बेटे के जान से हाथ धोना पड़ेगा.

इधर पुलिस को मोबाइल का नया लोकेशन पटना का मिला. पटना पुलिस के सहयोग से छात्र को बरामद कर लिया गया. फिर पूरी कहानी साफ हुई कि अपहरण का यह पूरा नाटक उस छात्र और उसके दोस्त ने मिलकर रची थी. पूछताछ में पता चला कि कि छात्र ने एक लड़की को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा था. उस लड़की ने इसकी शिकायत अपने पिता से कर दी. बाद में बात छात्र के पिता तक पहुंच गई जिस पर उसके काफी डांट लगी. इससे नाराज होकर छात्र ने अपने अपहरण की साजिश रची लेकिन पुलिस की तत्परता से पूरे मामले पर से पर्दा उठ गया.