About Me

header ads

गोदावरी नदी में 61 लोगों को ले जा रही नाव डूबी, 12 की मौत; बचाव जारी


आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में एक बड़े नाव हादसे में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि 30 लोग लापता हैं. 60 सैलानियों और चालक दल के सदस्यों से भरी नाव उफनती गोदावरी नदी (Godavari River) में पलट गई. स्थानीय लोगों ने 17 लोगों को बचा लिया, लापता लोगों की युद्धस्तर पर तलाश की जा रही है. मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है.

सरकारी बयान के मुताबिक मुख्यमंत्री रेड्डी ने नेशनल डिसास्टर रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ), नौसेना और ओएनजीसी से युद्ध स्तर पर बचाव कार्य चलाने को कहा है. बचाव कार्य में हेलीकॉप्टर को भी लगाया गया है. मुख्यमंत्री ने जिले में मौजूद सभी मंत्रियों को भी मौके पर पहुंचकर बचाव कार्यो पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं. साथ ही घटना के संबंध में विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी है.

पीएम और रक्षा मंत्री ने जताया दुख
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हादसे पर गहरा दुख जताया है. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, 'आंध्र प्रदेश पूर्वी गोदावरी में नाव के डूबने से बहुत दुख हुआ. मेरी संवेदनाएं पीडि़त परिवारों के साथ हैं.'

राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, 'आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी में एक नाव के पलटने से बहुमूल्य जान माल की हानि से बहुत दुखी हूं. मृतकों के परिजनों के साथ मेरी गहरी संवेदनाएं.'

नौका विहार सेवाओं के लाइसेंस निलंबित
मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद पूर्वी गोदावरी जिले के अधिकारियों ने क्षेत्र में सभी नौका विहार सेवाओं के लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं. नावों के लाइसेंस की जांच भी शुरू कर दी गई है.

राहत बचाव में जुटी एनडीआरएफ
राहत बचाव के लिए एनडीआरएफ की दो टीमों को लगाया गया है. हर एक टीम में 30 सदस्य हैं. वहीं, पर्यटन विभाग की दो नावों को भी बचाव कार्य में लगाया गया है.

उफान पर थी गोदावरी नदी
समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक नदी में पिछले कुछ दिनों से बाढ़ आई हुई है. जिस समय यह हादसा हुआ नदी उफान पर थी. आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगम द्वारा संचालित नाव पर चालक दल के नौ सदस्य थे.

कच्चुलुरु के पास हुआ हादसा
सूत्रों ने बताया कि नाव देवीपटनम के पास गांडी पोचम्मा मंदिर से पर्यटन स्थल पापीकोंडालु के लिए निकली थी. नाव प्राइवेट ऑपरेटर की थी. कच्चुलुरु के पास ही वह हादसे का शिकार हो गई.

तेलंगाना के थे 22 सैलानी
समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक हादसे का शिकार हुई नाव में सबसे ज्यादा 22 सैलानी तेलंगाना के थे. ये सभी लोग हैदराबाद के रहने वाले थे.

Subscribe Yuva Shakti Youtube channel for more updates:
.