About Me

header ads

भारत के इस बैंक में अब इंसान नहीं, रोबोट गिनेंगे आपके पैसे


🔷देश के 12 शहरों में ICICI बैंक के अंदर रोबोट की मदद से नोटों की गिनती
🔷रोबोट की मदद से सालाना करीब 1.80 अरब नोटों की हो सकेगी गिनती

लोन देने के मामले में प्राइवेट बैंकों की लाइन में आईसीआईसीआई बैंक देश का पहला प्रमुख बैंक बन गया है. यही नहीं, अब ICICI बैंक में नोटों की गिनती के लिए रोबोट की तैनाती की गई है.

ICICI बैंक की ऑपरेशंस और कस्टमर सर्विस के प्रमुख अनुभूति संघाई ने कहा कि ये रोबोटिक आर्म्स फिलहाल मुंबई, और सांगली (महाराष्ट्र), नई दिल्ली, बेंगलुरू और मंगलुरू (कर्नाटक), जयपुर, हैदराबाद, चंडीगढ़, भोपाल, रायपुर, सिलिगुड़ी और वाराणसी में काम कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि इन 14 मशीनों (रोबोटिक आर्म्स) को 12 शहरों में तैनात किया गया है, ताकि ये सभी कामकाजी दिन में 60 लाख नोटों को गिन सके या सालाना करीब 1.80 अरब नोटों को गिन सके.

उन्होंने कहा कि आईसीआईसीआई भारत का पहला वाणिज्यिक बैंक और दुनिया के गिनेचुने बैंकों में से एक है, जिसने नकदी प्रोसेसिंग के लिए औद्योगिक रोबोट्स की तैनाती की है. संघाई ने कहा, 'रोबोटिक आर्म्स 70 से अधिक पैरामीटर्स पर विभिन्न सेंसर्स के प्रयोग से बिना किसी ब्रेक के लगातार और बाधा रहित तरीके से काम करता है.'

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से स्वच्छ नोट की नीति को अनिवार्य बनाए जाने के बाद से बैंक अपनी करेंसी चेस्ट में उच्च प्रौद्योगिकी वाली नोट छांटने वाली मशीनों से नोट की छंटाई करते हैं और उसके बाद ही दुबारा उसे अपनी शाखाओं/एटीएम में भेजते हैं.