About Me

header ads

ममता बनर्जी ने सीपीआई और कांग्रेस की तरफ बढ़ाया दोस्ती का हाथ


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने अपनी विरोधी कांग्रेस और सीपीआई (एम) से भाजपा के खिलाफ एकजुट होने को कहा है. बुधवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा में ममता ने दोनों पार्टियों से भाजपा के खिलाफ मिलकर लड़ने की बात कही है. ममता ने कहा कि भाजपा किस तरह से सूबे को हिंसा में धकेल रही है, ये सब देख रहे हैं.

ममता बनर्जी ने कहा, राज्य के लोगों ने भाटपारा में देखा कि भाजपा को वोट देने का क्या नतीजा हो रहा है. मुझे लगता है कि टीएमसी, कांग्रेस,सीपीआई, हम सबको साथ आने की जरूरत है. इसका ये मतलब नहीं कि हम राजनीतिक रूप से कोई गठजोड़ करें लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर जो हमारे साझा मुद्दे हैं, उन पर हम साथ आ सकते हैं.

हाल के लोकसभा चुनाव में भाजपा और टीएमसी के बीच जबरदस्त हिंसा देखने को मिली है. भाजपा ने राज्य में तेजी से राजनीतिक जमीन हासिल की है. लोकसभी में उनको 18 सीटों पर जीत मिली है. इसके बाद से भी लगातार राज्य में राजनीतिक हिंसा हो रही है. सीपीआई और कांग्रेस ने राज्य में हिंसा को लेकर विरोध प्रदर्शन भी किया है. हाल ही में पश्चिम बंगाल के भाटपारा में हुई हिंसा के मामले में बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य का दौरा भी किया था. 

भाजपा नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने गृहमंत्री को दी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि राज्य की स्थिति बहुत खराब है और वहां तनाव की स्थिति बनी है. भाटपारा इलाके में हुई हिंसा में दो लोग मारे गए थे जबकि तीन लोग घायल हुए.