सिटिजन अंब्रेला की ओर से 26 पूजा समितियां सम्मानित


 सिटिजन अंब्रेला की ओर से  26 पूजा समितियां सम्मानित


टीम अमृतोबाजार और जूरी सदस्यों के एक पैनल ने किया पूजा समितियों का चयन

समारोह में सिटीजन अम्ब्रेला के डायरेक्टर गौरव बांठिया और चेयरमैन सुरेंद्र बांठिया मौजूद रहे

कंपनी प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से लगभग 70000 लोगों को रोजगार दे रही है

1882 में मौजीराम पन्नालाल के नाम से छतरियों के स्पेयर पार्ट्स के व्यापार के साथ शुरुआत

कोलकाता:  सिटीजन अंब्रेला की ओर से स्थानीय प्रेस क्लब में 26 पूजा समितियों को सम्मानित किया  गया. पूजा समितियों की दो श्रेणियां थीं –बारवाड़ी /सामुदायिक पूजा और 2. आवासीय परिसर पूजा.
छह पूजा समितियों को विशेष पुरस्कार दिए गये. 
नागरिक शारद सम्मान 2022 के विजेताओं का चयन दुर्गापूजा के दौरान टीम अमृतोबाजार और जूरी सदस्यों के एक पैनल के दौरे के आधार पर किया गया. समारोह में प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने इन समितियों को प्रमाण पत्र सौंपे. इस अवसर पर सिटीजन अम्ब्रेला के डायरेक्टर गौरव बांठिया, चेयरमैन सुरेंद्र बांठिया और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.
इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को सिटीजन अम्ब्रेला ब्रांड ने प्रायोजित व समर्थित किया था, जो वर्षों से देश की अग्रणी अम्ब्रेला, रेनकोट और बैग कंपनी रही है. कंपनी ने 140 साल पहले अपनी शानदार यात्रा शुरू की थी. कंपनी ने 1882 में मौजीराम पन्नालाल के नाम से छतरियों के स्पेयर पार्ट्स के व्यापार के साथ शुरुआत की. बाद में 1975 में, वर्तमान ब्रांड "सिटीजन अम्ब्रेला" का जन्म हुआ और अब यह एशिया की अग्रणी छाता, रेनकोट और बैग, ट्रॉली बैग और स्पेयर-पार्ट्स निर्माण कंपनी के रूप में अपने को स्थापित कर चुकी है. गुणवत्ता और सेवा की बदौलत अर्जित विश्वास ने उन्हें रेनकोट, बैग, ट्रॉली बैग आदि के उद्यमों में प्रवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया. प्रधानमंत्री के मेक इन इंडिया से प्रेरित होकर, कंपनी प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से लगभग 70000 लोगों को रोजगार प्रदान करती है. आने वाले दिनों में सिटीजन अम्ब्रेला कंपनी पूरी दुनिया में अम्ब्रेला एक्सपोर्ट करने में की दिशा में अपनी छाप छोड़ने जा रही है. प्रतिस्पर्धी कीमतों, गुणवत्ता और व्यावसायिक प्रतिबद्धता की वजह से अमेरिका व अन्य देशों से हमारे उत्पादों के बारे में पूछा जा रहा है. आकलन में इसके उत्पादों को चीन के उत्पादों से काफी बेहतर माना गया है. भारत के घरेलू बाजार में भी सिटीजन अम्ब्रेला ने गहरी छाप छोड़ी है और लोगों की पसंद बना हुआ है. यह कामयाबी डायरेक्टर गौरव बांठिया, चेयरमैन सुरेंद्र बांठिया और पूरी कंपनी की टीम की कड़ी मेहनत की बदौलत मिली है. श्री गौरव बांठिया ने बताया कि हमारा सपना यह है कि गांव-गांव में हर आदमी के हाथ में सिटीजन अंब्रेला हो. चेयरमैन सुरेंद्र बांठिया ने बताया कि हमारा सबसे ज्यादा जोर गुणवत्ता पर ही रहता है, जिससे बाजार में स्थापित होने में मदद मिली है.

सबसे बेहतर 10 क्लबों में  गोबरडांगा मिलन संघ,  नवपाड़ा सम्मिलिता सरबोजोनिन, चलताबागान सार्वजनिन दुर्गोत्सव समिति, इलाची मिलन संघ, गरिया सार्वजनिन दुर्गोत्सव समिति, बरिशा क्लब, सार्वजनिन दुर्गा पूजा समिति, शिवपुर षष्टीतला, बारवाड़ी पूजा समिति,  आमरा सबाई क्लब,  प्रतापगढ़ स्पोर्टिंग क्लब, 
10 बेहतर आवासन पूजा कमेटियां
इनमें सनी सीजन्स शारोदोत्सव समिति, सनी डेल पूजा समिति,  स्वभूमि हाइट्स अवासन,  इमामी सिटी सार्वजोनिन दुर्गोत्सव समिति, कल्लोल आबसिक समिति, रीजेंट पार्क गवर्नमेंट एस्टेट शारदीय समिति, नीलांचल कॉम्प्लेक्स फेज- 2 वेलफेयर एसोसिएशन, ईस्टर्न हाई कल्चरल सब कमेटी, क्लबटाउन गेटवे वेलफेयर एसोसिएशन,  अपोनालय पूजा समिति शामिल हैं.

विशेष विजेताओं की सूची
दक्षिणेश्वर डोमेस्टिक एरिया दुर्गा पूजा/काली पूजा समिति, हैप्पी गार्डन अबासिक वृंद, बेलगछिया सार्वजोनिन दुर्गोत्सव समिति, गारुलिया आदि दक्षिणांचल पूजा समिति, बिष्णुपुर पूजा संघ और  टॉलीगंज आदिदुर्गा मंच पूजा समिति