राष्ट्रीय पुरस्कार पाने वाले कैमूर के पहले शिक्षक होंगे हरिदास शर्मा, पांच सितंबर को मिलेगा सम्‍मान

कैमूर जिले के शिक्षक हरिदास शर्मा को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। पांच सितंबर शिक्षक दिवस के मौके पर राष्ट्रपति भवन में रामगढ़ प्रखंड स्थित मध्य विद्यालय डहरक के प्रभारी प्रधानाध्यापक हरिदास शर्मा राष्ट्रपति के हाथ से पुरस्कार मिलेगा। हरिदास शर्मा जिले के पहले शिक्षक हैं जिन्हें यह पुरस्कार प्राप्त हो रहा है। इसकी जानकारी से जिले के शिक्षक, शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों में खुशी हैं।

बता दें कि पांच अगस्त को नेशनल ज्यूरी पटना के समक्ष हरिदास शर्मा को विचार रखने का अवसर मिला था। इसमें उनका चयन राष्ट्रीय शिक्षा पुरस्कार के लिए हुआ। नेशनल ज्यूरी के समक्ष ऑनलाइन माध्यम से राज्य के छह शिक्षक शामिल हुए थे। कैमूर से हरिदास शर्मा का व मधुबनी से चंदना दत्ता का चयन हुआ।

हरिदास शर्मा का चयन होने के बाद 20 अगस्त को केंद्रीय टीम भी मध्य विद्यालय डहरक की सभी गतिविधियों की जांच करने पहुंची थी। इसमें ड्रोन कैमरा से सभी गतिविधियों को देखा गया और उसे कैच किया गया। केंद्रीय टीम ने भी यह माना कि विद्यालय की सभी गतिविधि काफी अच्छी है। हरिदास शर्मा का चयन होने के बाद जिले के कई जगहों पर सम्मान समारोह आयोजित कर उन्हें सम्मानित भी किया गया है।

इस संबंध में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी समग्र शिक्षा अक्षय पांडेय ने बताया कि प्रदेश स्तर पर बेहतर रैंक प्राप्त कर राष्ट्रीय स्तर पर कैमूर की पहचान हरिदास शर्मा ने बनाई है। ये जिले के पहले शिक्षक हैं जिन्हें यह पुरस्कार मिल रहा है। इस पहचान को और बेहतर बनाने के लिए लगातार जिले में प्रयास किया जा रहा है, ताकि विद्यालय में पढऩे वाले छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराई जाए।