बंगाल सरकार ने कुछ छूटों के साथ कोविड प्रतिबंधों को 15 सितंबर तक बढ़ाया, लोकल ट्रेनों के संचालन पर जारी रहेगी रोक

बंगाल सरकार ने कुछ अतिरिक्त छूटों के साथ राज्य में लागू कोविड प्रतिबंधों को शनिवार को एक बार फिर 15 सितंबर तक बढ़ाने की घोषणा की। कोचिंग सेंटरों को अब 50 फीसद क्षमता के साथ फिर से खोलने की अनुमति होगी। राज्य सरकार की ओर से जारी आदेश के मुताबिक रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। वहीं, लोकल ट्रेनों के संचालन पर रोक जारी रहेगी।

राज्य के मुख्य सचिव की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि कोविड प्रतिबंधों से पहले से जो छूट मिली हुई है वह जारी रहेगी।बता दें कि महामारी की दूसरी लहर में बंगाल में 16 मई से ही लॉकडाउन संबंधी पाबंदियां लागू है और इसे नियमित अंतराल पर कुछ छूटों के साथ बढ़ाया जा रहा था। इन प्रतिबंधों की समय सीमा 30 अगस्त को समाप्त हो रही थी। लोग उम्मीद कर रहे थे कि उसके बाद प्रतिबंधों से राहत मिल जाएगी और राज्य सरकार लोकल ट्रेनें चलाने की अनुमति देगी, लेकिन यह इंतजार फिर बढ़ गया है।

बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही साफ कर चुकी हैं कि जब तक ग्रामीण क्षेत्रों में कम से कम 50 फीसद लोगों का टीकाकरण नहीं हो जाता लोकल ट्रेन सेवा फिर से शुरू नहीं होंगी। साथ ही सितंबर में कोरोना की तीसरी लहर आने की विशेषज्ञों ने आशंका व्यक्त की है। इसके मद्देनजर स्थिति की समीक्षा के बाद राज्य सरकार ने पाबंदियों को बढ़ाने का फैसला किया है।

बता दें कि बंगाल में इस समय लोकल ट्रेन सेवा फिर से शुरू करने की सबसे ज्यादा मांगे उठ रही हैं। लोकल ट्रेन महानगर व उपनगरीय इलाकों के लोगों के लिए परिवहन का सबसे सस्ता व सुलभ साधन है। लेकिन कोरोना बढ़ने की आशंका के चलते राज्य सरकार इसको चलाने की अनुमति नहीं दे रही है। लोकल ट्रेनों के संचालन पर छह मई से ही प्रतिबंध लागू है।