टेरर फंडिंग मामले में NIA की बड़ी कार्रवाई, जम्मू-कश्मीर में 40 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) टेरर फंडिंग मामले में जम्मू-कश्मीर के कई स्थानों पर छापेमारी कर रही है। अनंतनाग जिला में रविवार सुबह एनआइए की टीम ने छापेमारी की। जानकारी के अनुसार प्रदेश के 40 ठिकानों में एनआइए की छापेमारी जारी है। इसमें पुलिस के अलावा सीआरपीएफ का भी सहयोग लिया जा रहा है। 

जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी एनआइए ने रविवार को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में 40 ठिकानों में छापेमारी शुरू कर दी है। इसमें श्रीनगर, गांदरबल, अच्छाबल, शौपियां, बांडीपेारा, रामबन, डोडा, किश्तवाड़, राजौरी और अन्य जिले शामिल है। एनआइए की यह छापेमारी टेरर फंडिंग सहित कुछ नए मामलों के सिलसिले में है।

एनआइए को छापेमारी के दौरान कोई दिक्कत न हो इसके लिए जम्मू-कश्मीर प्रदेश की पुलिस और सीआरपीएफ का सहयोग लिया गया है। एनआइए की जमात-ए-इस्लामी संगठन के सदस्यों के घर पर भी छापेमारी जारी है। वर्ष 2019 में केंद्र सरकार ने जमात-ए-इस्लामी संगठन पर प्रतिबंध लगा दिया था। एनआइए के एक अधिकारी के अनुसार, फल्ह-ई-आम ट्रस्ट से जुड़े सदस्य जो श्रीनगर के नौगाम में रहते हैं, के घरों पर भी छापेमारी जारी है।

गौरतलब है कि गत जुलाई महीने में एनआइए की कश्मीर में छापेमारी हुई थी। एनआइए की टीम ने दक्षिण कश्मीर के अंतनाग जिला में दो स्थानों पर छापेमारी करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया था। इससे पहले टीम ने गत रविवार को छापेमारी के दौरान पांच लोगों को पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया था।

एनआइए की टीम ने जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ के सहयोग से सोफी मोहल्ला अच्छाबल के रहने वाले आकिब अहमद सोफी उर्फ नदीम और मोहम्मद आरिफ सोफी पुत्र गुलाम नबी सोफी को उनके निवास स्थानों से पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया था।

टीम ने गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज गांजीवरा के ब्वॉयज हॉस्टल के सामने स्थित जियो ग्राफिक प्रिंटिंग प्रेस में भी छापेमारी करते हुए आरिफ हुसैन कादरी पुत्र पीरजादा ताहिर निवासी ख्वाजा मीर अली साहिब, चीनी चौक अनंतनाग के रहने वाले युवक को गिरफ्तार किया। इस दौरान एनआइए की टीम ने युवक से एक लैपटॉप और अन्य दस्तावेज बरामद कर जब्त किए गए थे।