West Bengal Election Result 2021: ममता बनर्जी का नंदीग्राम में गड़बड़ी का आरोप, कहा- रिटर्निंग ऑफिसर ने जताया था जान को खतरा

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सोमवार शाम 7 बजे बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मिलेंगी और विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी की प्रचंड जीत के बाद सरकार बनाने का दावा पेश करेंगी। सत्तारूढ़ टीएमसी ने 292 सीटों में से 214 सीटों पर जीत हासिल की है। भाजपा 77 सीटों के साथ मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रविवार रात ट्वीट किया था कि कल शाम 7 बजे माननीय सीएम राजभवन में मुझसे मुलाकात करेंगे।

बंगाल का संग्राम जीतने के बाद भी नंदीग्राम सीट पर हार का सामना करने वालीं बंगाल की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने सोमवार को बड़ा आरोप लगाया है। ममता ने चुनाव परिणाम के अगले दिन नंदीग्राम में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए दावा किया कि उनके साथ धोखा हुआ है। ममता ने कहा, 'मेरे पास किसी ने मेसेज भेजा था कि नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफिसर ने किसी को लिखा था कि यदि उनकी ओर से रिकाउंटिंग का आदेश दिया गया तो जान को खतरा हो सकता है। चार घंटों तक के लिए सर्वर डाउन हो गया था। यहां तक कि गवर्नर ने भी मुझे बधाई दी थी। इसके बाद अचानक ही हर चीज बदल गई।'

पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जमकर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि वो तो 50 सीटों का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाती,  भाजपा का 77 सीट जीतना चुनाव आयोग के योगदान की वजह से है। 

वहीं, ममता ने टीएमसी के कार्यकर्ताओं से हिंसा न करने की अपील करते हुए कहा कि केंद्रीय बलों और भाजपा ने उनका उत्पीड़न किया है। ममता ने कहा, 'मैं सभी से अपील करना चाहती हूं कि शांति बनाए रखें और हिंसा में शामिल न हों। हम जानते हैं कि भाजपा और केंद्रीय बलों ने हमारा बहुत उत्पीड़न किया है। लेकिन हमें शांति बनाए रखना है। फिलहाल हमें कोरोना वायरस से लड़ना है।' इसके साथ ही ममता ने चुनाव जीतने के अगले ही दिन राज्य के सभी पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स घोषित करने का ऐलान भी किया है ताकि उन्हें प्राथमिकता के आधार पर कोरोना वैक्सीन लगाई जा सके। 

बता दें कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के रिजल्ट घोषित हो चुके हैं, पश्चिम बंगाल में TMC की शानदार वापसी हुई है , उसने यहां 213 सीटें जीती हैं, हालांकि पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी अपनी हाईप्रोफाइल सीट नंदीग्राम से हार गई हैं, जबकि  भाजपा के हाथ में 77 सीटें आई हैं।